Breaking News
Home / खबर / दानिश बना दिनेश और जरीना बनी मिथलेश, मुस्लिम परिवार के 15 सदस्यों ने की हिंदू धर्म में वापसी, जानिए पूरा मामला

दानिश बना दिनेश और जरीना बनी मिथलेश, मुस्लिम परिवार के 15 सदस्यों ने की हिंदू धर्म में वापसी, जानिए पूरा मामला

दोस्तों भारत एक ऐसा देश है जहां कई धर्म और जाति के लोग रहते हैं ऐसे में हर इंसान को पूरी स्वतंत्रता दी गई है कि वह जिस धर्म को अपनाना चाहिए अपना सकता है और जिस धर्म में वह पैदा हुआ है अगर वह उस धर्म के साथ जाना चाहे तो वह भी कर सकता है ऐसे में आज हम आपको एक ऐसे परिवार के बारे में बता रहे हैं जिन्होंने अपना धर्म परिवर्तन किया या यूं कहिए कि अपने पर धन धर्म में वापस से प्रवेश किया.ये मामला यूपी के मुजफ्फनगर में बघरा स्थित योग साधना यशवीराश्रम का है.जहा एक ही कुटुंब के चार मुस्लिम परिवार के 15 सदस्य हिंदू बन गए हैं उन्होंने करीब 18 साल पहले मुस्लिम धर्म अपना लिया था।पुलिस और खुफिया विभाग को इस तरह के किसी भी धर्म परिवर्तन की कोई जानकारी नहीं है।

बिनोली क्षेत्र में मजदूरी करने वाला यह परिवार अपने घर में वापसी करने के बाद काफी उत्साहित था। इस परिवार का कहना है कि वह काफी समय से घर वापसी करना चाह रहे थे,जब वो यशवीर जी महाराज से मिले तो उन्होंने घर्म प्रवर्तन किया,जिन लोगों का धर्म परिवर्तन कराया गया है उनमें महिला जरीन का नाम मिथलेश, रहीस का नाम यशपाल, गुलबहार का नाम संगीता, अशरफ का नाम विनोद और दानिश का नाम विनेश रखा गया है। इसी तरह शकील का नाम अमित, असगर का नाम बिल्लू कुमार, सुलेखा का नाम सरोज, नीशा का नाम निशा देवी, आलिया का नाम प्रतिभा, आशिया का नाम वंदना, आसमा का नाम कविता, शमी का नाम बादल और सनी का नाम दीपक रखा गया है।

परिवार के सदस्यों का कहना है कि 18 साल पहले उन्हें आतंकित कर दिया गया था कि उन्होंने धर्म परिवर्तन कर इस्लाम धर्म स्वीकार कर लिया था। दोबारा हिंदू धर्म में वापसी करने वाले परिवार में पांच पुरुषों के अलावा 7 महिलाएं और तीन बेटियां शामिल हैं। आश्रम के व्यवस्थापक आचार्य मृगेंद्र का दावा है कि उनकी पहचान इसलिए ज्यादा नहीं बताई गई जिससे उन्हें कोई परेशान नही कर सकें।

इधर यशवीराश्रम बघरा के संचालक एवं संस्थापक यशवीर जी महाराज का कहना है कि इन परिवारो ने खुद उनसे संपर्क किया। बिनोली क्षेत्र के निवासी इन परिवार के 15 सदस्य सोमवार को आश्रम पहुंचे और पुन हिंदू धर्म में वापसी कराए जाने की इच्छा जताई. उन्होंने आश्रम में इसके लिए प्रबंध किए और शुद्धि हवन कर परिवार के सभी 18 सदस्यों को दोबारा हिंदू धर्म में शामिल किया। गायत्री मंत्र का जाप कराया और हवन में आहुति दिलाई।

About Anant Kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *