Breaking News
Home / खबर / असम में पैदा हुआ 5.2 किलोग्राम वजनी बच्चा ,सबसे वजनी होने का बनाया रिकॉर्ड तो डॉक्टरों ने किया हैरान करने वाला दावा

असम में पैदा हुआ 5.2 किलोग्राम वजनी बच्चा ,सबसे वजनी होने का बनाया रिकॉर्ड तो डॉक्टरों ने किया हैरान करने वाला दावा

स्त्री के लिए माँ बनन्ना सबसे बड़ा सौभाग्य है.औरत जब माँ बनजाति है तो उससे बड़ा कोई और सौभाग्य नहीं होता है.अब एक ऐसा घटना सामने आई है जिसे हम सिर्फ कुदरत का करिश्मा ही कह सकते हैं.वैसे तो समान्यता खुदरती तौर पर नवजट शिशु का जन्म 2.5 से 3.5 kg तक होना चाहिए.लेकिन इसे कुदरत का करिश्मा ही कह सकते हैं. आसन से एक मामला सामने आया है असम में सामान्य वजन से 2 गुना वजन के शिशु ने जन्म लिया है.बच्चे का वजन देखकर डॉक्टर भी काफी हैरान हैं. डॉक्टरों का दावा है कि राज्य का सबसे वजनी नवजात है. नवजात और माँ दोनों ही पूरी तरह स्वस्थ हैं.

आपको बता दें असम के कछार जिले में एक महिला ने 5.2 किलोग्राम वजन के बच्चे को जन्म दिया है.डॉक्टरों ने राज्य में नवजात शिशु के जन्म के समय सबसे भारी वजन होने का दावा किया है.डॉक्टर का कहना है कि इस बच्चे के जन्म के बाद और हॉस्पिटल में जानकारी पता की गई इसके बाद पता चला कि इससे अधिक वजन वाले बच्चे ने राज्य में जन्म नहीं लिया है. सभी  हैरान है बच्चे को इतना वजन देखकर.

खबरों के मुताबिक सिलचर के कनकपुर की रहने वाली 27 वर्षीय गर्भवती महिला जया दास 17 जून को सतींद्र देव सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया था. डॉक्टरों ने बताया कि उसकी डिलीवरी के लिए 29 मई को अस्पताल में उसे भर्ती होने के लिए कहा था.लेकिन किसी वजह से वह उस तारीख को हॉस्पिटल में भर्ती नहीं हुई.

20 दिन की देरी से हुई प्रसव पीड़ा डॉक्टर हनीफ

आपको बता दें हॉस्पिटल के डॉक्टर हनीफ मोहम्मद अफसर आलम ने बताया कि वह इस महिला का शुरू से उपचार कर रहे हैं गर्भवती महिला को 29 मई को अस्पताल में भर्ती होने के लिए कहा था. लेकिन करीब 20 दिन देरी से 17 जून को  प्रसव पीड़ा हुई तब वह अस्पताल में आई.उन्होंने बताया कि जया का पहले का बच्चा सिजेरियन से था. इसीलिए उन्होंने लास्ट सोनोग्राफी भी नहीं कि आपातकालीन स्थिति में उसे भर्ती कर लिया गया.

इसके पश्चात सरकारी अस्पताल के चिकित्सकों की टीम ने सिजेरियन डिलीवरी की जिसमें महिला ने 5.2 किलो के बच्चे को जन्म दिया. डॉक्टर आलम ने कहा कि डिलीवरी में देरी हुई थी लेकिन यह अंदाजा नहीं था कि बच्चे का वजन इतना अधिक होगा. उन्होंने बताया कि बच्चा और माँ दोनों पूरी तरह स्वस्थ हैं आमतौर पर नवजात का वजन 2.5 किलो से 3 किलो तक होता है उन्होंने बताया कि इस बारे में और डॉक्टरों से बात कि उनके द्वारा भी 5 किलो से अधिक वजन के किसी नवजात के बारे में जानकारी नहीं मिली है. डॉक्टर ने दावा किया कि असम में जन्म लेने वाला सबसे ज्यादा वजन वाला यही शिशु है उन्होंने बताया  बादल दास का यह दूसरा बच्चा है उनके पहले बच्चे का जन्म के समय वजन 3.8 किलो था.

About Anant Kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *