Breaking News
Home / खबर / 10 साल कॉन्स्टेबल की नौकरी करते हुए पास की UPSC की परीक्षा, ACP बन पेश की मिशाल

10 साल कॉन्स्टेबल की नौकरी करते हुए पास की UPSC की परीक्षा, ACP बन पेश की मिशाल

अगर किसी भी लक्ष्य को लेकर हम चले और कठिन मेहनत और परिश्रम से उस कार्य को करते रहे तो वैसे ही हमारे लिए वह मनोकामना पूरी होती है. यूपीएससी की परीक्षा  काफी कठिन होती है इसको सफलता प्राप्त करना एक सौभाग्य की बात है. हम आपसे बात करने जा रहे हैं.दिल्ली के कांस्टेबल फिरोज आलम ने अपने लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए कभी भी उससे मुंह नहीं मोड़ा और तत पर बने रहे अपना लक्ष्य बनाकर कठिन परिश्रम किया यूपीएससी की परीक्षा पास की.यूपीएससी की परीक्षा की पढ़ाई जारी रखी और इस कठिन परीक्षा को उत्तीर्ण करके सफलता प्राप्त की.उत्तर प्रदेश के हापुड़ जिले के गांव आज़मपुर दहपा के रहने वाले फिरोज आलम जिन्होंने 10 वर्षों तक दिल्ली पुलिस मैं कांस्टेबल की नौकरी करते हुए उन्होंने ACP बनकर सफलता में एक और आयाम जोड़ लिया.

उन्हें अपनी पसंद का दानिप्स कैन्डर भी मिल गया जिसके बाद वह दिल्ली पुलिस में ही ACP बन गए.NBT से बातचीत के दौरान फिरोज ने बताया 1 अप्रैल से दिल्ली के झरौंदा क्षेत्र में स्थित पुलिस ट्रेनिंग कॉलेज में ट्रेनिंग शुरू हो गई है. जो अगले वर्ष मार्च महीने तक चलेगी. उसके पश्चात उन्हें फील्ड ट्रेनिंग के लिए भेजा जाएगा. बतौर ACP (Assistant Commissioner of Police) उन्होंने बताया कि बाकी कैंडिडेट की तरह पहली पसंद आईएएस और आईपीएस की उसके बाद उन्होंने दानिप्स सर्विसेज और आईआरएस को प्राथमिकता दी थी.दानिप्स कैडर उन्हें उनकी रैंक के मुताबिक मिला.


फ़िरोज़ ने बताया मेरे लिए किसी सपने के सच होने जैसा है. 10,11वर्षो से दिल्ली पुलिस में कार्यरत था. इसी कारण दानिप्स सर्विस को भी अपने प्राथमिकता दी दिल्ली पुलिस के वर्क कल्चर को बहुत करीब से देखने के कारण यहां काम करने में कुछ भी अलग होने की अनुभूति नहीं होगी अपने साथ काम करने वालों के बारे में फिरोज ने बताया उनकी दोस्ती हमेशा की तरह बनी रहेगी. लेकिन हां ड्यूटी के समय हम लोगअनुशासन का पालन अवश्य करेंगे.


इंस्पेक्टर मनीष को मानते हैं अपना आदर्श

फिरोज दिल्ली पुलिस के एक इंस्पेक्टर मनीष कुमार यादव को अपना आदर्श मानते हैं फ़िरोज़ मनीष की नॉलेज का स्तर उनकी कार्यशैली पॉजिटिव अपरोज हरकेस की बारीक्यों से अच्छे से परखने का नजरिया और व्यवहारिक नजरिया बहुत पसंद है वह कहते हैं कि उनका सुझाव हमेंशा काम आया वे हमेशा ही मेरे प्रेरणा स्रोत रहे हैं.

About Anant Kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *