Breaking News
Home / खबर / रिंकू शर्मा मर्डर केस पर बोले अरुण गोविल,राम के देश में राम का नाम लेने वाली की हत्या निंदनीय है….

रिंकू शर्मा मर्डर केस पर बोले अरुण गोविल,राम के देश में राम का नाम लेने वाली की हत्या निंदनीय है….

आपको बता दें दिल्ली के मंगोलपुरी में रिंकू शर्मा की हत्या से पूरे देश में गुस्से का माहौल बना हुआ है.आम जनता से लेकर राजनेता सेलिब्रिटीज इस हत्या की निंदा कर रहे हैं, वहीं सोशल मीडिया पर इस मामले को लोग सांप्रदायिकता का रंग देने की कोशिश कर रहे हैं।मृतक रिंकू के भाई मनु शर्मा का भी कहना है कि उनके भैया की हत्या इसलिए हुई है कि वह अपने धर्म के लिए हमेशा आगे रहता था राम मंदिर के लिए चंदा जमा करने के अभियान से जुड़ा हुआ था.लेकिन दिल्ली पुलिस साफ कह चुकी है कि रिंकू शर्मा की हत्या एक व्यावसायिक प्रतिद्वंद्विता के कारण हुई है इसके लिए किसी भी संप्रदाय को जिम्मेदार नहीं ठहराया जाना चाहिए.

वहीं आपको बता दें आप के राष्ट्रीय प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने पार्टी कार्यालय में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा, मंगोलपुरी हत्या दिल्ली में सभी लोगों के लिए चौंकाने वाली है. हमने देखा है कि दिल्ली पुलिस केंद्रीय गृह मंत्री मंत्रालय दिल्ली में लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित करने में विफल रहे हैं.अब यहां तक कि हिंदू भी बीजेपी सरकार के तहत सुरक्षित नहीं हैं.उन्होंने कहा जब से बीजेपी सत्ता में आई है तब से एक विशेष समुदाय (मुस्लिम) के लोग पहले से ही चिंतित थे अब बीजेपी ने सिख समुदाय के लोगों के बीच डर पैदा करना शुरू कर दिया है जो कृषि कानून के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। ग्रेटर कैलाश से विधायक भारद्वाज ने आगे कहा कि आप के नेतृत्व वाली दिल्ली सरकार परिवार को कानूनी सहायता प्रदान करेगी उन्होंने कहा आप सरकार मृतक परिवार को सर्वश्रेष्ठ कानूनी सहायता प्रदान करेंगी मामले में आधिकारिक जांच के बाद वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।

आपको बता दें विहिप के संयुक्त महामंत्री डॉ सुरेंद्र जैन ने घटना के बाद दिल्ली पुलिस की भूमिका पर बहुत से सवाल उठाए हैं, कहा है कि पुलिस प्रशासन नाकामी छुपाने के लिए नई नई कहानियां गढ़ रही है. यदि पुलिस प्रशासन ने समय रहते कार्रवाई की होती तो रिंकू आज अपने परिवार के बीच होता. उन्होंने परिवार को समुचित सुरक्षा उपलब्ध कराने की मांग की है कहां है कि अविलंब न्याय के लिए फास्ट ट्रैक कोर्ट में मामले की सुनवाई हो.

परिवार को सम्मानजनक मुआवजा दिया जाए.घटना की पुनरावृत्ति होने से रोकने के लिए कठोर कदम उठाए जाएं. उधर राष्ट्रीय प्रवक्ता विनोद बंसल ने कहा कि यह घटना दिल्ली पुलिस की क्षमता का परिचायक है दिल्ली पुलिस की नाकामी के कारण कानून व्यवस्था बदतर है पुलिस सक्रिय होती तो रिंकू शर्मा को जानना गंवानी पड़ती.

 

About Anant Kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *