कुछ हटकर (Something Different)

भारत में बहुत कम लोग जानते हैं थाली में 3 रोटी क्यों परोसी नहीं जाती, कारण है काफी हैरान कर देने वाला …

यह तो सभी जानते हैं घर की रोटी का जो स्वाद होता है वह बाहर की रोटी में बिल्कुल नहीं होता.आज हम आपको एक ऐसे धारणा के बारे में बताने जा रहे हैं जो कि कमी लोग जानते और समझते हैं.

हाल ही में 3 रोटी का डालना वास्तु और वैज्ञानिक दृष्टि दोनों से ही हानिकारक माना जाता है.थाली में एक साथ तीन रोटी रखकर देना अशुभ संकेत माना जाता है.ऐसी मान्यता है कि गलती से भी किसी की थाली में 3 रोटियां रखकर नहीं देना चाहिए क्योंकि उसको अशुभ माना जाता है, अगर तीन रोटियां रख दीदी ने थाली में तो उसमें तीसरी रोटी के दो टुकड़े कर कर रखना चाहिए.ऐसा करने से रोटियों की संख्या बढ़ जाएगी.हिंदू मान्यता के अनुसार तीन संख्या को अशुभ माना जाता है इसलिए किसी भी धार्मिक कार्य में या अनुष्ठान में तीन संख्या का ध्यान रखना चाहिए तीन संख्या नहीं होनी चाहिए किसी भी चीज में क्योंकि तीन संख्या को अशुभ माना जाता है.और यही नियम खाना परोसने से पहले भी इस नियम का पालन किया जाता है.

माना जाता है खाने में 3 रोटियां किसी व्यक्ति की मृत्यु उपरांत उसके त्रयोदशी संस्कार से पहले निकाले जाने वाले भोजन मे ली जाती है.और इसे भोजन निकालने वाले के अलावा कोई और इस भोजन को नहीं देखता है.
इसलिए किसी भी व्यक्ति द्वारा तीन रोटियां खाना मृतक के भोजन समान माना गया है. 3 रोटियां खाने से आपके मन में शत्रुता के भाव उत्पन्न होते हैं।

वैज्ञानिक तथ्य..

आपको बता दें वैज्ञानिक तथ्य के अनुसार, ऊर्जा विशेषज्ञों की माने तो किसी आम व्यक्ति के लिए एक बार के भोजन में दो चपाती, एक कटोरी दाल 50 या 100 ग्राम चावल एक कटोरी सब्जी को एक समय के भोजन के लिए संतुलित भोजन माना गया है.40 से 50 ग्राम कटोरी में 600,700 कैलोरी ऊर्जा होती है. दो रोटियों से 1200 से 1400 कैलोरी ऊर्जा मिल जाती हैं. अगर आप इस मात्रा से अधिक भोजन का सेवन करेंगे तो यह आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होगा.

इस वजह से ज्यादातर लोग हैं अनजान…

हम आपको बताने जा रहे हैं,3 रोटी थाली में ना परोसे जाने का इसके पीछे क्या कारण हैं.माना जाता है खाने में 3 रोटियां किसी व्यक्ति की मृत्यु उपरांत उसके त्रयोदशी संस्कार से पहले निकाले जाने वाले भोजन मे ली जाती है.और इसे भोजन निकालने वाले के अलावा कोई और इस भोजन को नहीं देखता है.
इसलिए किसी भी व्यक्ति द्वारा तीन रोटियां खाना मृतक के भोजन समान माना गया है. 3 रोटियां खाने से आपके मन में शत्रुता के भाव उत्पन्न होते हैं।

 

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top