Breaking News
Home / बॉलीवुड / रोटी रोजी के लिए जूते परिवार को सिलाई मशीन देकर बोले सोनू सूद पहली कमीज मेरी सिलना…

रोटी रोजी के लिए जूते परिवार को सिलाई मशीन देकर बोले सोनू सूद पहली कमीज मेरी सिलना…

जैसा की आप सभी को पता है दरिया दिल सोनू सूद ने करो ना काल में काफी जनता की मदद की और उन्होंने काफी लोगों की सहायता की रोटी के पानी का इंतजाम किया उनके आने जाने की व्यवस्था की। आशा है मजदूरों की सहायता की करुणा काल के समय के चलते। हम यह कह सकते हैं कि सोनू सोनू से किसी का दुख नहीं देखा जाता और वह हारा नहीं हर किसी की मदद करने के लिए आगे आ जाते हैं आपको बता दें सोनू सोनू ने एक बार फिर किसी परिवार के लिए मसीहा बने है।

सोनू सूद ने इस बार है यह कैसे गरीब परिवार की मदद की है जो गरीबी से जूझ रहा था, और अपने परिवार की रोजी रोटी के लिए परेशान था. सोनू सूद ने इस परिवार की मदद करने के लिए एक सिलाई मशीन खरीद कर दी है. और उस सिलाई मशीन से पहली शर्ट खुदके लिये सिलने की बात भी कही है. सोनू सूद को उनकी इस मदद के लिए एक बार फिर से बहुत ज्यादा दुआएं मिल रही हैं।

आपको बता दें सोनू सूद के ट्विटर अकाउंट पर इन दिनों एक वीडियो शेयर किया गया है, जो कि अधिक वायरल हो रहा है.इस वीडियो को विशाल नामक कुमार महतो ने बनाया है विशाल में वीडियो में पूरे परिवार के लोगों की तस्वीर लेते हुए अपलोड किया है.इस परिवार में महिलाओं लड़कियों की संख्या अधिक दिख रही है.वीडियो में इस परिवार की एक लड़की अपने परिवार की माली हालत सुधारने के लिए एक सिलाई मशीन की मदन मिल जाने के लिए आग्रह कर रही है। ताकि इस लड़की के परिवार की आर्थिक स्थिति सुधर सके इसलिए सोनू सूद से एक मदद मांगी है वीडियो के कैप्च न में लिखा है कि सर आज इस परिवार को आप लोगों की मदद की जरूरत है,इनका घर खर्चे चलाना मुश्किल हो रहा है इनको एक सिलाई मशीन मिल गई तो उससे इनके हुनर का इस्तेमाल कर कर वह अपने घर की आर्थिक स्थिति सुधार सकेगी यह बेटी।

आपको बता दें सोनू सूद कभी किसी की मदद के लिए पीछे नहीं हटते और पूरे दिल और जान से मदद करने के लिए आगे आते हैं। आपको बता दें इससे पहले भी सोनू सूद ने उत्तराखंड के टिहरी हादसे में मारे गए एक व्यक्ति की 4 बेटियों की जिम्मेदारी उठाने का फैसला किया था.

ग्लेशियर टूटने से हुई चमोली हादसे में इन बच्चियों के पिता आलम सिंह पुंडीर की मौत हो गई थी. उसके बाद उन्होंने इन चार बेटियों का खर्च और जिम्मेदारी उठाने का फैसला किया था। इस संसार में ऐसे लोग कम मिलते हैं जो दूसरों की मदद के लिए आगे आए और लेकिन सोनू सूद इस मामले में सबसे आगे हैं।

About Anant Kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *