बॉलीवुड

साउथ सुपरस्टार महेश बाबू ने बॉलीवुड को लिया आड़े हाथ कहा ‘बॉलीवुड मुझे अफ़्फोर्ड नहीं कर सकता मैं हिंदी फिल्में कर वक्त बर्बाद नहीं कर सकता’

आज हम आपसे बात करेंगे एक्टर महेश बाबू जिन्होंने अब ऐसी बात कही है जिससे वह सुर्खियों में आ गए हैं.एक्टर महेश बाबू ने कहा है कि बॉलीवुड मुझे अफोर्ड नहीं कर सकता है और मैं हिंदी फिल्में करने के बाद अपना वक्त बर्बाद नहीं कर सकता.साउथ फिल्मी दुनिया के सुपरस्टार महेश बाबू जो अपने अभिनय से काफी ज्यादा मशहूर है फिल्मी दुनिया में.

एक्टर महेश बाबू ने अब एक खुलासा किया है और उन्होंने बॉलीवुड फिल्मी दुनिया को कह दिया है कि बॉलीवुड फिल्मी दुनिया उन्हें अफोर्ड नहीं कर सकती. ऐसे में वह अपना वक्त बर्बाद नहीं करना चाहते


महेश बाबू ने खुलासा किया है बॉलीवुड फिल्में नहीं करेंगे क्योंकि हिंदी फिल्म दुनिया उन्हें अवार्ड नहीं कर सकती एक्टर ने कहा वह ऐसी इंडस्ट्री में काम ही नहीं करना चाहते जो उन्हें अफोर्ड  नहीं कर पाती महेश बाबू का ऐसा मानना है कि वह साउथ की फिल्में करके ही काफी खुश हैं महेश बाबू कई बार सुर्खियों में आ चुके हैं.

 

जानकारी के लिए बता दे महेश बाबू को हिंदी फिल्मों के कई ऑफर मिलते हैं लेकिन हिंदी फिल्म जगत उन्हें अफोर्ड  नहीं कर सकता साउथ में जो स्टारडम मुझे और सम्मान मिला है वह बहुत बड़ी बात है इसलिए मैं इस इंडस्ट्री को छोड़कर किसी दूसरी फिल्मी दुनिया का हिस्सा बनने के लिए नहीं सोचता हूं. हिंदी फिल्मों में काम करके अपना वक्त बर्बाद नहीं करना चाहती हूं.

 

मैंने हमेशा ही फिल्में करने और बड़ा बनने के बारे में सोचा मेरा सपना सच हो रहा है और मैं कर सकता हूं फिल्मों में करियर बनाने का मेरा सपना अब सच हो रहा है.आपको बता दें एक्टर महेश बाबू को अंतिम बार सरिलरु नीकेवरु में देखा गया था. जो वर्ष 2020 में रिलीज हुई थी.एक्टर की आने वाली फिल्म निर्देशक परशुराम पेटला की सरकारु वारी पेटला है.आपको बता दें हिंदी फिल्मी दुनिया में इससे पहले भी कई बार अपना बयान दे चुके हैं हाल ही में नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने भी हिंदी फिल्मी दुनिया को लेकर अपने विचार व्यक्त किए थे उन्होंने कहा था कि वह बॉलीवुड का नाम बदलकर हिंदी फिल्म इंडस्ट्री रखना चाहते हैं. उनका ऐसा कहना है देश में फिल्म तो हिंदी भाषा में बनती है लेकिन डॉक्टर से लेकर असिस्टेंट हर कोई अंग्रेजी में बातें करता है एक्टर के समझ से परे है नवाजुद्दीन का ऐसा कहना है कि सेट में हिंदी में बातें होनी चाहिए ना की अंग्रेजी में सेट में अंग्रेजी में बात करने पर एक्टर की परफॉर्मेंस पर भी असर होता है.

To Top