खबर (News)

चप्पल में छुपाकर ला रहा था इतनी कीमत का सोना कि जानकर होंगे हैरान, ऐसे कस्टम ऑफिसर ने पकड़ा रंगे हाथ, देखें Video

विदेश से भारत में तस्करी होना अब सामान्य बात हो गई है.ऐसे बहुत से केस सामने आ रहे लोग विदेश से सस्ती चीजे खरीद लेते है और भारत में वो वस्तुएं बहुमूल्य साबित होती है.लेकिन बहुत कम अपराधी इस मंसूबे को पूरा कर पाते है क्युकी भारत की एयरपोर्ट सिक्योरिटी पुलिस नाकाम कर देती है.लोग तस्करी करने के लिए कई तरह तरह के उपाय करते है और तरकीब सुझाए है.लेकिन हर बार नाकाम हो जाती है.अभी हाल ही में चेन्नई एयरपोर्ट में अजीबो गरीब तस्करी का सामने आया है.पुलिस प्रशासन के अनुसार ऐसे मामले बहुत बार हो चुके है.

एक शख्स दुबई से भारत के चेन्नई एयरपोर्ट पर उतरा था.जब वो एयरपोर्ट से बाहर आ रहा था उसका पाव स्लिप हो गया और वह गिर गया.जिसे देखकर पास के है सिक्योरिटी गार्ड ने उसे उठाया और उसका चैपल भी उठाया लेकिन जब देख चप्पल का वजन अन्य की तुलना ने भारी है.इसे कहते है जब किस्मत खराब होती है तब कुछ भी हो सकता है.उसका स्लिप होना ही पुलिस वाले के लिए सही साबित हुआ.एयरपोर्ट सिक्युरिटी गार्ड ने उन चप्पलों का जांच की ती पाया उसमे सोने की 5 छोटी छोटी सिलिया है जिसे देखकर सब चौंक गए.यह घटना आस पास खड़े सभी लोग देखने लग गए. एयरपोर्ट सिक्योरिटी के अनुसार शुद्ध 24 कैरेट सोने 239 ग्राम के बिस्किट थे.जिनकी कीमत 12लाख से अधिक है.अरब देशों से सोने की तस्करी सर्वाधिक की जाती है क्योंकि अरब में सोने की कीमत भारतीय उपमहाद्वीप से काफी कम है इसलिए अत्यधिक लाभ हेतु वे टैक्स से बचने के लिए तस्करी करते है.

कहा जाता है इस तस्करी नेटवर्क में बहुत बड़ा नेटवर्क शामिल होता है.चेन्नई एयरपोर्ट अथॉरिटी के अनुसार इससे पहले भी इसी घटनाएं घटित हुई है.पिछली घटना में व्यक्ति ने सोने सिलियो को खाने की वस्तुओ में छुपा दिया था और तस्करी करने वाला था.लेकिन उसके हाव भाव से कोई समझ नहीं पाया था वो तस्करी कर रहा है लेकिन उसकी कुछ ऊटपटांग हरकतों से पुलिस प्रशासन ने जांच की तो पाया 286 ग्राम सोना बरामद हुआ.जिसकी बाजार के मूल्य से कीमत 14 लाख से अधिक मनी जा रही है.तस्करी के अन्य कई तरीके अपनाते है.चेन्नई एयरपोर्ट भारत का इंटरनेशलन एयरपोर्ट है.वहा पर तस्करी के मामले सर्वाधिक होते है.पुलिस प्रशासन के अनुसार हम व्यक्ति की हावभाव से पहचान लेते है कि वह कैसा है.खेर जो भी हो लेकिन तस्करी करने वाली की संख्या में कोई कमी नहीं आती है.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top