Breaking News
Home / क्रिकेट / भारतीय क्रिकेटर्स की भाई-बहनों की ऐसी जोड़ियां,जिसमे एक हुआ सफल तो दूसरा फ्लॉप

भारतीय क्रिकेटर्स की भाई-बहनों की ऐसी जोड़ियां,जिसमे एक हुआ सफल तो दूसरा फ्लॉप

भाई-बहन का रिश्ता बहुत अनोखा होता है.उनमें आपस में प्यार भरी नोंक झोंक होती है तो प्यार भी बहुत होता है। वे एक दूसरे से प्रेरित भी होते हैं.भारत की तरफ से खेलने वाली महिला क्रिकेटरों ने भी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में भारत का नाम रोशन किया हैं.हम आपको भारतीय क्रिकेटर्स की भाई-बहन की कुछ जोड़ियों के बारे में बताने जा रहे हैं.इन बहनों ने अपने भाईयों को क्रिकेट खेलते देख खुद भी क्रिकेट खेलना शुरू किया और इस क्षेत्र में नाम भी कमाया.

स्मृति मंधाना और श्रवण मंधाना

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की स्टार प्लेयर स्मृति मंधाना के बारे में कौन नहीं जानता.आज स्मृति देश में ही नहीं बल्कि विदेश में भी अपने बेहतरीन प्रदर्शन से वाहवाही बटोर रही हैं.स्मृति मंधाना ने भारतीय महिला क्रिकेट को नई ऊंचाइयों तक पहुंचाया.स्मृति मंधाना के भाई भी क्रिकेटर रहे हैं और इन्होंने अपने भाई को देखकर ही क्रिकेट खेलना शुरू किया था.स्मृति मंधाना के भाई श्रवण मंधाना ने महाराष्ट्र की तरफ से क्रिकेट खेला है.हालांकि श्रवण अपनी बहन की तरह क्रिकेट में ज्यादा सफलता हासिल नहीं कर पाए.

पवन नेगी और बबीता नेगी

फेमस भारतीय क्रिकेटर पवन नेगी ने क्रिकेट में बहुत नाम कमाया.पवन नेगी ने इंडियन प्रीमियर लीग में भी धमाल मचाया.पवन नेगी आईपीएल 2009 में सबसे महंगे खिलाड़ी रहे थे.ऑलराउंडर पवन नेगी की बहन बबीता नेगी भी नेशनल लेवल की क्रिकेट प्लेयर रह चुकी हैं.बबीता ने दिल्ली की ओर से क्रिकेट खेला है.बबीता उम्र में पवन से 2 साल बड़ी हैं.उन्होंने बताया था कि क्रिकेट खेलने का हुनर उनके अंदर अपने भाई को देखकर ही आया.बबीता ने अपने क्रिकेट कॅरियर में कई टी-20 और वनडे मुकाबले खेले हैं और उनमें उनका प्रदर्शन भी अच्छा रहा.बबिता इंडिया रेलवे में बतौर सीनियर क्लर्क
काम कर रही हैं.

वाशिंगटन सुंदर और मनीसुंदर शैलजा

वाशिंगटन सुंदर भारत की अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट टीम में अपनी एक अलग जगह बना चुके हैं.वाशिंगटन सुंदर की बहन मनीसुंदर शैलजा ने तमिलनाडु की ओर से 4 टी-20 मुकाबले खेलें.वो दाएं हाथ की बल्लेबाज हैं.हालांकि मनीसुंदर शैलजा अपने भाई वाशिंगटन सुंदर की तरह क्रिकेट में सफलता हासिल नहीं कर पाई और फ्लॉप हो गई.

About Anant Kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *