Bollywood

Dilip Kumar के साथ डेब्यू करने वाले थे अभिषेक बच्चन, ‘आख़िरी मुग़ल’ बंद होने से टूट गया सपना

फिल्म इंडस्ट्री के लीजेंड दिलीप कुमार का निधन बुधवार 7 जुलाई 2021 सुबह हो गया. दिलीप कुमार को 29 जून को सांस लेने में प्रॉब्लम हो रही थी. इसलिए उन्हें मुंबई के हिंदुजा हॉस्पिटल में भर्ती किया गया.वे काफी समय से अस्वस्थ थे. इस बात की जानकारी उनकी पत्नी सायरा बानो ने दी.


दिलीप कुमार को श्रद्धांजलि देने के लिए बॉलीवुड के सभी सितारे उनके घर पर नजर आए. दिलीप कुमार को अंतिम विदाई देने के लिए बच्चन परिवार, धर्मेंद्र, करण जोहर, रणबीर कपूर, अनुपम खेर और जॉनी लीवर कई हस्तिया शामिल हुयी.दिलीप जी की चाहने वालो में कई नाम शामिल है,और कई एक्टर्स उनके साथ काम करना चाहते थे,ये मौका बहुत काम लोगो को मिलता है,सितारों की इस भीड़ में अभिषेक बच्चन को यह मौक़ा मिलने वाला था, लेकिन ऐसा हो ना सका ।

ये बात खुद अभिषेक बच्चन ने बताई,अभिषेक ने दिलीप साहब को याद करते हुए एक भावुक नोट लिखा, जिससे उनका डेब्यू होने वाला था और दिलीप कुमार उनके पिता का किरदार निभाने वाले थे, मगर बदक़िस्मती से यह फ़िल्म नहीं बनी। यह फ़िल्म थी आख़िरी मुग़ल।

अभिषेक ने अपने नोट में लिखा- मेरी पहली फ़िल्म आख़िरी मुग़ल होनी थी। दिलीप साहब मेरे पिता का किरदार निभाने वाले थे। मुझे अच्छे से याद है कि मेरे पिता ने मुझसे कहा था कि अपने आदर्श के साथ स्क्रीन शेयर करने का सम्मान मिलने में उन्हें एक दशक से अधिक लग गया और मुझे डेब्यू फ़िल्म में ही यह मौक़ा मिल रहा है।

 

 

उन्होंने मुझसे इन पलों का आनंद उठाने और उन्हें (दिलीप साहब) देखकर ज़्यादा से ज़्यादा सीखने के लिए कहा था। ऐसी फ़िल्म, जिसमें मुझे अपने आदर्श के साथ काम करने का मौक़ा मिले, वो आदर्श है। मैं कितना ख़ुशक़िस्मत था। अफ़सोस, वो फ़िल्म कभी नहीं बनी और मुझे यह कहने का सम्मान नहीं मिला,

 

कि मैंने महान दिलीप कुमार जी के साथ फ़िल्म में काम किया है। आज सिनेमा एक युग का अंत हो गया है। शुक्र है कि बहुत सी पीढ़ियां देख और सीख सकेंगी, लेकिन उससे ज़रूरी, उनके सिनेमा के ज़रिए दिलीप साहब के हुनर और सम्मान को महसूस करेंगी। आपने अपने काम से जो हमें आशीर्वाद दिया है, उसके लिए शुक्रिया।

sorce

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top