Breaking News
Home / Uncategorized / फिल्म हसीना मान जाएगी के लेखक इम्तियाज पटेल का हुआ निधन, कुछ दिनों से चल रहे थे बीमार….

फिल्म हसीना मान जाएगी के लेखक इम्तियाज पटेल का हुआ निधन, कुछ दिनों से चल रहे थे बीमार….

आपको बता दें टीवी के पॉपुलर शो हम पांच के लेखक इम्तियाज पटेल का शनिवार शाम को मुंबई के मलाड इलाके में स्थित उनके घर पर निधन हो गया। इम्तियाज पटेल की आयु 57 वर्ष थी उनके परिवार में उनकी मां और पत्नी उनकी बेटी और एक बेटा दो भाई हैं।मुंबई में मलाड इलाके में स्थित कब्रिस्तान में उनको शनिवार को ही सुपुर्द ए खाक किया गया।

आपको बता दें इम्तियाज पटेल को पिछले वर्ष स्वाइन फ्लू हो गया था और उसके पश्चात उनको करो ना भी हो गया था करो ना से संक्रमित होने के बाद वह स्वस्थ भी हो गए थे. लेकिन कुछ दिनों से वह अस्वस्थ थे, और शनिवार सुबह उनकी तबीयत ज्यादा बिगड़ गई और शाम को शनिवार को इस दुनिया से रुखसत हो गए।

आपको बता दें इतिहास पटेल ने शो पड़ोसन लिखने से अपने करियर की शुरुआत की थी। इम्तियाज पटेल ने गुजराती रंगमंच में सो नाटक लिखे थे. नहीं अगर हम बात करें टीवी दुनिया के चर्चित शो हम पांच के 350 एपिसोड लिखे थे. और चमत्कार, कभी यह कभी वह शो भी उन्होंने लिखें. आपको बता दें इम्तियाज पटेल ने और यूनुस सजावल ने साथ में डेविड धवन द्वारा निर्देशित फिल्म संजय दत्त और गोविंदा स्टार फिल्म में हसीना मान जाएगी जोड़ी नंबर वन का स्क्रीनप्ले भी लिखा था. इम्तियाज़ पटेल के निधन केबाद से बॉलीवुड फिल्मी दुनिया में शोक की लहर छा गई।

आपको बता दें बॉलीवुड फिल्म दरिया के जाने-माने राइटर और डायरेक्टर रूमी जाफरी इतिहास पटेल की निधन पर शोक व्यक्त किया है। रूमी जाफरी ने दुख जताते हुए इम्तियाज पटेल के बारे में कहा इतिहास का चले जाना रंगमंच और फिल्मी दुनिया के लिए काफी बड़ा दुख है। इम्तियाज भाई का चले जाना बहुत दुखद है. उन्होंने इम्तियाज़ पटेल की तारीफ करते हुए कहा वह बेहद नेक दिल और खुद्दार इंसान थे। वे उसूलों के पक्के और बहुत धार्मिक इंसान थे. नमाज के पाबंद थे. अपनी मां और अपने परिवार से बहुत प्रेम करते थे. मां को हज भी करवाया था. मुझे उनके साथ काम करने का मौका मिला. उनका सेंस ऑफ ह्यूमर गजब का था. डेविड धवन साहब की फिल्म हसीना मान जाएगी और जोड़ी नंबर वन डायलॉग मैंने लिखे थे और स्क्रीनप्ले इतिहास भाई और यूनुस सजावल की जोड़ी ने लिखा था. गजब की शख्सियत थी उनका जाना फिल्म और रंगमंच के लिए गहरा सदमा है. उनका काम हमेशा नए लोगों को सीखने की प्रेरणा देगा।

About Anant Kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *