Breaking News
Home / बॉलीवुड / इंडियन आइडल में संतोष के दर्द को सुनकर नम हुई हर किसी की आंखें, जानिए कैसे शुरू हुआ था इस लिरिसिस्ट का सफर

इंडियन आइडल में संतोष के दर्द को सुनकर नम हुई हर किसी की आंखें, जानिए कैसे शुरू हुआ था इस लिरिसिस्ट का सफर

आज हर कोई भूल चुका है गुजरे जमाने के मशहूर गीतकार संतोष आनंद को.संतोष आनंद ने अपने करियर में एक से एक फिल्मों में गीत दिए हैं, उनके गीतों से कई फिल्में सजी है.81 साल के संतोष आनंद ने मोहब्बत है क्या चीज़, एक प्यार का नगमा है, मेघा रे मेघा रे मत जा तू परदेश, जिंदगी की ना टूटे लड़ी प्यार कर ले घड़ी दो घड़ी, जैसे बढ़िया गाने हमें दिए है, आज काफी बुजुर्ग हो चुके हैं संतोष आनंद उनके द्वारा दिए गए गाने फैंस आज भी गुनगुनाते हैं. आपको बतादे वक्त ऐसा आ गया है कि संतोष के पास आज कोई भी काम नहीं है, बड़ी कठनाइयों का सामना कर रहे हैं.आपको बतादे संतोष आनंद के बेटे ने 2014 में आत्महत्या कर ली थी. इस घटना के बाद वह दुखी हो गए थे शारीरिक रूप से भी वह काफी कमजोर हो गए हैं.

पहले गाने ने किया था कमाल……
आपको बतादे कौनसी फिल्मो मई अपने लिरिक्स से चार चाँद लगाए .संतोष आनंद का जन्म बुलंदशहर के सिकंदराबाद में हुआ था. अपने करियर की शुरुआत उन्होंने पूरब और पश्चिम से की थी. एक प्यार का नगमा है, उनका लिखा हुआ पहला गाना था. यह गाना उन्होंने1972 में आई फिल्म शोर के लिए लिखा था. इस गाने को मुकेश और लता मंगेशकर ने गाया था. लक्ष्मीकांत प्यारेलाल ने संगीत दिया था. फिर रोटी कपड़ा और मकान. फिर नहीं बस और नहीं, और मैं ना भूलूंगा, सुपरहिट गानों को लिखा. संतोष आनंद को फिल्मफेयर अवार्ड भी मिला. उन्होंने क्रांति. प्यासा सावन. प्रेम रोग जैसी फिल्मों के लिए गाने लिखे. मोहब्बत है क्या चीज़ वह गाना था संतोष के लगभग सभी गानों ने खूब प्रसिद्धि पाई.

बेटे ने कहा अलविदा

आपको बतादे की संतोष और उनकी पत्नी को शादी के 10 साल बाद बेटा हुआ था.प्रोनाउन का नाम संकल्प रखा था. संकल्प गृह मंत्रालय में आईएएस अधिकारियों को सोशियोलॉजी और क्रिमिनोलॉजी पढ़ाते थे. एक वक्त ऐसा आया उनका बेटा मानसिक रूप से परेशान रहने लगा. और उन्होंने 1 दिन आत्महत्या कर ली. आत्महत्या से पहले उन्होंने 10 पेज का सुसाइड नोट भी लिखा था,
आर्थिक स्थिति झेल रहे है आनंद.

संकल्प ने होम डिपार्टमेंट में सीनियर अधिकारियों और डीआईजी को लेकर कई बातें लिखी थी.बहुत दुःख दायक है ये की आज संतोष आर्थिक स्थिति का सामना कर रहे हैं. बेटे के जाने के बाद जिस तरह से वो दर्द में डूबे हैं. यह स्थिति किसी की भी आंखों में आंसू ला सकती है.ऐसी स्तिथि मई किसी भी हिम्मत वाले की हिम्मत जवाब दे सकती है .आपको बतादे अभी के इंडियन आइडल में पहुंचे संतोष आनंद. उन्होंने अपने दर्द भरी दास्तां सुनाई तो हर किसी की आँखों मई आंसू आगए. नेहा कक्कड़ संतोष की मदद के लिए आगे आई.

source.https://m.dailyhunt.in/news/india/hindi/tv9+bharatvarsh-epaper-tvninbha/indiyan+aaidal+me+santosh+aanand+ke+dard+ko+sunakar+nam+hui+har+kisi+aankhe+janie+kaise+shuru+huaa+tha+lirisist+ka+kariyar-newsid-n255823100?s=a&uu=0x1997cf9393abe3a3&ss=pd&fbclid=IwAR0FA1kNkR0rvM3riuyvNIsY-_bkVNDrkL8ZGgdp9PMAV36x2GBHcR7AszU

About Anant Kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *