Breaking News
Home / खबर / कश्मीर की आयशा अजीज बनी सबसे कम उम्र की पायलट बोलि  अगर पैगंबर की बीवी हजरत आयशा

कश्मीर की आयशा अजीज बनी सबसे कम उम्र की पायलट बोलि  अगर पैगंबर की बीवी हजरत आयशा

हम आपसे बात करने जा रहे हैं. कश्मीर की आयशा जो की देरी के लिए मुंबई के ट्रैफिक को दोष देती हैं. और वह आज खुश एक या दो दिनों में उन्हें कमर्शियल पायलट का लाइसेंस मिल जाएगा.जल्द ही वह यात्री विमानों को उड़ाएंगी अजीज सिर्फ 16 वर्ष की उम्र में देश की सबसे कम उम्र की पायलट बनी थी. उन्हें 2011 में स्टूडेंट पायलट का लाइसेंस मिला था.

वृळी के एक बिजनेसमैन की बेटी है जिसने अपने सपनों को पूरा करने के लिए कड़ी मेहनत की है पहली बार अपने माता-पिता को बैठाकर हवाई जहाज उड़ाने का अनुभव बहुत ही शानदार रहा 92 फ्लाइंग क्लब से पिछले वर्ष एविएशन में ग्रेजुएट अजीत अजीत बताती हैं कि ट्रेनिंग के दौरान उन्होंने एक इंजन वाले हवाई जहाज को 200 घंटे तक उड़ाया है.आयशा अज़ीज़ अपनी कामयाबी का श्रेय अपने पिता अब्दुल अज़ीज़ को देती हैं.

आयशा जब छोटी थी तो वह अपनी मां के साथ श्रीनगर की हवाई यात्रा करते थे.उन्होंने बताया मैं पायलटों को देखकर बहुत खुश होती थी मुझे आकर्षित करते थे जैसे जैसे बड़ी हुई मेरे मन मे पायलट बनने के लिए और ब  उकसक्ता में आगई. आज मैंने बॉम्बे फ्लाइंग क्लब में दाखिला ले लिया. जब आयशा सबसे कम उम्र के स्टूडेंट पायलट बनने की खबर मीडिया को मिली तब लोगों ने जश्न मनाया कश्मीर में कुछ रूढ़ीवादी लोगो को ठीक नहीं लगा. जॉब के लिए एक मुस्लिम लड़की एक कश्मीरी लड़की के लिए जॉब ठीक नहीं है.

उन पर इस तरह के तमाम टिप्पणियां भी की गई हैं.अगर मोहम्मद पैग़म्बर की पत्नी हजरत आयशा युद्ध में ऊंट की सवारी कर सकती हैं तो मैं हवाई जहाज क्यों नहीं उड़ा सकती हैं.आयशा अज़ीज़ एविएशन में महिलाओं के लिए अफसरों के सवाल पर कहती हैं कि भारत मे  तस्वीर इतनी खराब भी नहीं है.

अज़ीज़ ने बताया दुनिया महिला पायलट सिर्फ 3% है लेकिन भारत में 11.3 प्रतिशत हैं.इस चुनौती पूर्ण पेशे को अपनाने के लिए महिलाओं के सामने ढेर सारे मौके हैं. आयशा ने 2012 में अमरीकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा में ट्रेनिंग के लिए भी गई थी. वहां उन्होंने सुनीता विलियम से मुलाकात की थी जिसे वो एक यादगार मुलाकात बताती हैं. और अज़ीज़ का अगला लक्ष्य रूस में सुखोई एयरवेज मिग पर  29 लड़ाकू विमान उड़ाने का है.

About Anant Kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *