बॉलीवुड (Bollywood)

पत्नी शबाना की सादगी देख मनोज बाजपेयी को हो गया था प्यार ,पहली बार ऐसी हालत में मिली थी शबाना

हिंदी फिल्मों के शानदार अभिनेता मनोज बाजपेयी आज 53 साल के हो गए हैं. मनोज का जन्म 23 अप्रैल 1969 को बिहार में हुआ था. मनोज ने अपनी दमदार अदाकारी के दम पर दर्शकों के दिलों में अपनी बड़ी और ख़ास जगह बनाई है. मनोज का नाम बॉलीवुड के बेहतरीन अभिनेताओं में गिना जाता है.

मनोज बाजपेयी ने काफी संघर्ष करके बड़ा और ख़ास मुकाम हिंदी सिनेमा में पाया है. बिहार के एक मध्यम वर्गीय परिवार में जन्में मनोज ने बॉलीवुड की दुनिया में न केवल बेहतरीन काम किया बल्कि बॉलीवुड पर वे सालों से राज भी करते आ रहे हैं. मनोज ने हिंदी सिनेमा के साथ ही छोटे पर्दे पर भी काम किया है और वे वेब सीरीज में काम करके भी धूम मचा चुके हैं.

मनोज हिंदी सिनेमा से 28 सालों से जुड़े हुए हैं. जब मनोज महज 9 साला के थे तब ही उनकी रूचि अभिनय में थी. आगे जाकर उन्होंने अपने इस सपने को जीया और देखते ही देखते वे हिंदी सिनेमा के बेहतरीन कलाकार बन गए. उन्होंने पहले थिएटर ज्वाइन किया था और फिर टीवी पर काम किया.

मनोज टीवी पर भी देखने को मिले हैं. उन्होंने ‘स्वाभिमान’ नाम के धारावाहिक में काम किया है. यह धारावाहिक दूरदर्शन चैनल पर आता था. वहीं जल्द ही मनोज बड़े पर्दे पर भी नजर आए. उनकी पहली फिल्म ‘शेखर कपूर’ के निर्देशन में बनी ‘बैंडिट क्वीन’ थी.

लोगों की नजरों में मनोज साल 1998 में आई फिल्म ‘सत्या’ से आए थे. इस फिल्म में उनका काम खूब सराहा गया और फिर उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा. मनोज गैंग्स ऑफ वासेपुर, द फैमिली मैन, अय्यारी, एलओसी कारगिल, सोनचिरैया, डायल 100, द फैमिली मैन जैसी कई फिल्मों और वेब सीरीज में काम करके लोकप्रिय हुए.

यह तो हो गई मनोज के फ़िल्मी करियर की बात एक नजर ज़रा अभिनेता के निजी जीवन पर भी डाल लेते हैं. आपको जानकारी के लिए बता दें कि मनोज ने कुल दो शादियां की थी. हिंदी सिनेमा में आने से पहले ही उनकी पहली शादी साल 1990 में हो गई थी. तब उनकी उम्र 21 साल थी.मनोज की पहली शादी बहुत जल्द टूट गई थी. वहीं उन्होंने दूसरी शादी की थी अभिनेत्री शबाना रजा से. दोनों ने लंबे समय तक एक दूजे को डेट किया था और फिर दोनों विवाह बंधन में बंधे थे

मनोज बाजपेयी और शबाना की पहली मुलाकात एक पार्टी में हुई थी और शबाना को पहली बार देखते ही मनोज का दिल उन पर आ गया था. मनोज ने अपनी बायोग्राफी ‘मनोज बाजपेयी-कुछ पाने की जिद’ में अपनी और शबाना की पहली मुलाकात का जिक्र किया है.

साल 1998 में फिल्म निर्माता और निर्देशक हंसल मेहता की एक पार्टी में मनोज और शबाना शामिल हुए थे. मनोज अपनी बायोग्राफी में लिखते है कि, ”पार्टी में पहुंचा तो देखा कि एक लड़की बिना मेकअप के, बालों में तेल और आंखों पर चश्मा लगाए बैठी है. मैंने सोचा कि यार बॉलीवुड की किसी हीरोइन में तो इतना साहस नहीं कि बालों में तेल लगाकर पार्टी में आ जाए, तो बस इस सादगी पर दिल आ गया

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top