Breaking News
Home / बॉलीवुड / डेब्यू फिल्म में भिखारी का किरदार निभाने वाले मनोज कुमार ऐसे बने भारत कुमार..

डेब्यू फिल्म में भिखारी का किरदार निभाने वाले मनोज कुमार ऐसे बने भारत कुमार..

फिल्म इंडस्ट्री के दिग्गज कलाकार मनोज कुमार आज अपना 84 बर्थडे सेलिब्रेट कर रहे हैं. मनोज कुमार का जन्म पाकिस्तान के एबटाबाद में 24 जुलाई 1937 में हुआ. भारत-पाकिस्तान के विभाजन के बाद मनोज कुमार के माता-पिता पाकिस्तान से दिल्ली में आ गए. दिल्ली में उपस्थित हिंदू कॉलेज से ही मनोज कुमार ने अपनी ग्रेजुएशन की डिग्री प्राप्त की. मनोज कुमार का असली नाम हरिकिशन गोस्वामी है.

हरिकिशन गोस्वामी से ऐसे बने मनोज कुमार…..

मनोज कुमार ट्रेजेडी किंग दिलीप कुमार के बहुत बड़े फैन हैं. मनोज कुमार ने सबसे पहले दिलीप कुमार की फिल्म देखी थी. और अपनी जिंदगी की पहली फिल्म देखकर वे दिलीप कुमार के बहुत बड़े फैन हो गए थे. मनोज कुमार ने दिलीप कुमार की फिल्म शबनम देखी तो उन्होंने अपना नाम ही बदल दिया. फिल्म शबनम में दिलीप कुमार का नाम मनोज कुमार था. दिलीप कुमार की फिल्म शबनम रिलीज हुई थी उस समय मनोज कुमार सिर्फ 10 साल के थे.

वे दिलीप कुमार के अभिनय से इतने प्रभावित हो गए थे कि उन्होंने निश्चय कर लिया कि वह भी दिलीप कुमार की तरह फिल्म इंडस्ट्री में अपना करियर बनाएंगे. जब मनोज कुमार ने फिल्मों में काम करना शुरू किया तो अनेकों लोगों का कहना था कि मनोज कुमार बिल्कुल दिलीप कुमार की कॉपी करते हैं. लेकिन इस बात से मनोज कुमार को बिल्कुल भी बुरा नहीं लगता था. इस बात से मनोज कुमार को खुशी होती थी. कि मैं फिल्म इंडस्ट्री के दिग्गज कलाकार दिलीप कुमार की तरह काम करता हूं. दिलीप कुमार मनोज कुमार की फिल्म क्रांति में भी काम कर चुके हैं. फिल्म क्रांति को मनोज कुमार ने डायरेक्ट और प्रोड्यूस किया था.


एक इंटरव्यू के दौरान मनोज कुमार ने बताया दिलीप कुमार जितने बड़े कलाकार, के साथ काम करना मेरे लिए बहुत बड़े गर्व की बात है. जब मैं फिल्म क्रांति को डायरेक्ट और प्रोड्यूस कर रहा था तब उन्होंने मुझे इस बात का बिल्कुल भी एहसास नहीं होने दिया कि उनकी वजह से ही मैं आज इस मुकाम पर पहुंचा हूं. मैं उन्हें जिस तरह सीन को करने के लिए कहता तो वह बिल्कुल वैसे ही कर देते. मैंने दिलीप कुमार जितना विनम्र स्वभाव किसी ने नहीं देखा.

फिल्म फैशन से शुरू किया फिल्मी सफर…


मनोज कुमार ने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत साल 1957 में रिलीज हुई फिल्म फैशन से की. इस फिल्म की कहानी लेखक भाकरी ने लिखी है. मनोज कुमार लेखक भाकरी के साथ में फिल्म फैशन में काम कर रहे थे तो उनकी मात्र सिर्फ 19 साल थी. इस फिल्म में मनोज कुमार को 90 साल के एक अधिकारी का किरदार निभाना था. और मनोज कुमार ने अपने इस किरदार को बड़े बखूबी से निभाया. उनके इस किरदार को देखकर कहा भी नहीं जा सकता कि यह 19 साल के मनोज कुमार हैं. भिखारी के रोल में मनोज कुमार को कोई भी पहचान नहीं पाया. इस फिल्म में प्रदीप कुमार और माला सिन्हा अहम किरदार के रूप में नजर आए.


आपको बता दें मनोज कुमार को लेखक भाकरी की वजह से ही फिल्म इंडस्ट्री में काम मिला. मनोज कुमार ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया मेरी पत्नी शशि अपनी सहेलियों के साथ फिल्म फैशन देखने गई थी.पहले तो वह मुझे पहचान ही नहीं पाए. शशि को इस बात पर यकीन नहीं हो रहा है कि मैं ही फिल्म में 90 साल की भिखारी का रोल निभा रहा हूं. साल 1965 में रिलीज हुई फिल्म सहित से मनोज कुमार को बहुत लोकप्रियता प्राप्त हुई. मनोज कुमार ने अपने फिल्मी करियर में कई सुपरहिट फिल्में दी हैं.


पूरब और पश्चिम, रोटी कपड़ा और मकान, शहीद और उपकार, पत्थर के सनम, हिमालय की गोद, क्रांति, वह कौन थी और गुमनाम. फिल्म उपकार के लिए मनोज कुमार को नेशनल अवार्ड से सम्मानित किया गया. भारत के प्रधानमंत्री रह चुके लाल बहादुर शास्त्री के कहने पर मनोज कुमार ने फिल्म उपकार बनाई. फिल्म लाल बहादुर शास्त्री के नारे जय जवान जय किसान पर आधारित है. और यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर सुपरहिट रही.

SORCE

About Anant Kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *