Breaking News
Home / खबर / छठ पर बैन के खिलाफ केजरीवाल के घर के सामने प्रदर्शन कर रहे थे मनोज तिवारी हुए घायल ,अस्पताल में करवाया भर्ती

छठ पर बैन के खिलाफ केजरीवाल के घर के सामने प्रदर्शन कर रहे थे मनोज तिवारी हुए घायल ,अस्पताल में करवाया भर्ती

खबरों के अनुसार बीजेपी सांसद मनोज तिवारी ने छठ समारोह पर रोक लगाए जाने को लेकर प्रदर्शन किया इसी प्रदर्शन के दौरान बीजेपी सांसद मनोज तिवारी को चोटें आई हैं और वह घायल हो गए हैं .उनको सफदरगंज अस्पताल दिल्ली में भर्ती किया गया है और प्रदर्शन के दौरान लगी चोटों से घायल होने के बाद उपचार के लिए उन्हें भर्ती किया गया है. छठ समारोह को लेकर विरोध प्रदर्शन किया जा रहा था तो आइए चर्चा करते हैं क्या है पूरी वारदात.

खबरों के अनुसार बीजेपी सांसद मनोज तिवारी को लग गई है चोट. छठ पर बैन को लेकर केजरीवाल के घर के सामने प्रदर्शन करने में लगी है सांसद मनोज को चोट दिल्ली सफदरगंज अस्पताल में भर्ती कराया गया है डॉक्टर की तरफ से कोई भी अभी तक बयान सामने नहीं आए हैं.तो आइए बताएं क्या है पूरा मामला.


आपको बता दें खबरों के अनुसार भारतीय जनता पार्टी दिल्ली सरकार के सार्वजनिक स्थानों पर छठ पूजा को समारोह पर रोक लगाने को लेकर प्रदर्शन चल रहा था. छठ समारोह पर रोक लगाने वाले निर्णय के खिलाफ मंगलवार को सड़क पर बीजेपी सांसद मनोज तिवारी दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष आदेश गुप्ता सहित सैकड़ों संख्या में बीजेपी के कार्यकर्ता सीएम केजरीवाल के आवास पर आवास पर लोग बड़े तभी इसी दौरान दिल्ली पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए जगह-जगह बैरिकेट्स लगा दिए थे.

लेकिन बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने बैरिकेड को तोड़ दिया पुलिस को रोकने के लिए वाटर कैनन तक का प्रयोग करना पड़ गया.इसी सब के दौरान बीजेपी सांसद मनोजतिवारी को चोट लग गई और वह घायल हो गए जिसके बाद उन्हें इलाज के लिए तुरंत ही सफदर गंज अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है. लेकिन अभीतक चिकित्सक की ओर से अभी तक मनोज तिवारी हालत को लेकर कोई बयान जारी नहीं किया गया है और उनका इलाज चल रहा है.

पूरे मामले के अनुसार दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण “डीडीएमए “ने पिछले सप्ताह एक आदेश में कोविड-19 स्थिति को मद्देनजर रखते हुए नदी किनारे, जलाशयों और मंदिरों सहितसार्वजनिक स्थानों पर छठ पूजा समारोह पर  रोक लगा दी गई थी. बीजेपी कार्यकर्ताओं ने केजरीवाल सरकार के इस निर्णय का विरोध प्रदर्शन किया है और सार्वजनिक स्थलों पर छठपूजा किए जाने की मांग की है. सोमवार को आदेश गुप्ता ने घोषणा कर दी कि त्योहार पूरे भवय तरीके से ही मनाया जाएगा पार्टी शासित नगर निगम इसकी व्यवस्था करेगी.
बीजेपी दिल्ली सांसद मनोज तिवारी ने पूर्वांचलयो में बसे दिल्ली मे बिहार और पूर्वी उत्तर प्रदेश के लोगों की राय लेने के लिए एक रथ यात्रा निकालनी शुरू कर दी और और चेतावनी दे दी कि अगर छठ मनाने से लोगों को रोका गया तो डीडीएमए के आदेश का विरोध किया जाएगा

छठ पर प्रतिबंध के खिलाफ तिवारी की रथ यात्रा पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए सीएम केजरीवाल ने कहा था कि सार्वजनिक स्थानों पर समारोह की अनुमति नहीं देने का निर्णय लोगों की सुरक्षा को देखते हुए लिया गया है. और विपक्ष एक संवेदनशील मुद्दे पर गंदी राजनीति कर रहा है.

About Anant Kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *