कुछ हटकर

धर्म की दीवार तोड़ इस मुस्लिम लड़की ने रचाई हिन्दू लड़के से शादी ,मंदिर में लिए 7 फेरे,नाम धर्म भी बदला

प्रेम ने एक बार फिर दीवानगी की हदें लांघ दी है.इस बार मजहब की दीवार तोड़ते हुए हिंदू लड़के के प्‍यार में पागल हुई मुस्लिम लड़की ने झारखंड से भागकर बिहार में जाकर शादी रचाई है.ताजा मामला हजारीबाग का है, जहां धर्म बदलकर मुस्लिम से हिंदू बनी युवती ने पसंद का जीवन साथी चुना.मुस्लिम धर्म छोड़कर हिंदू धर्म अपनाने वाली युवती साहिला परवनी हजारीबाग के एक गांव की रहने वाली है.जबकि उसका पति सोहन बिहार के बेगूसराय का निवासी है.नौलखा मंदिर में हुई इस शादी की पूरे इलाके में चर्चा है.वर पक्ष की ओर से लड़के के परिवार वाले भी इस शादी समारोह के गवाह बने.

संवाददाता ने बताया कि लड़का और लड़की दोनों एक-दूसरे को करीब दो साल से जानते थे.एक साथ काम करने के दौरान उनके बीच पहले दोस्‍ती हुई और फिर उनके बीच प्‍यार हो गया.बीते दिन झारखंड के हजारीबाग की रहने वाली साहि‍ला परवीन अपने घर से भागकर बेगूसराय, बिहार लड़के के घर पहुंच गई.इसके बाद लड़के के घरवालों ने दोनों की हिंदू रीति-रिवाज के साथ नौलखा मंदिर में शादी कराई.

जानकारी के मुताबिक हिंदू लड़के से शादी रचाने के बाद साहि‍ला परवीन अब शालिनी कुमारी बन गई है.मजहब की दीवार तोड़कर एक-दूसरे के संग सात फेरे लेने के बाद यह प्रेमी जोड़ा अब काफी सुकून महसूस कर रहा है.इनके बीच पहले दोस्ती फिर प्यार हुआ तो धर्म-संप्रदाय के बंधन को दोनों ने तोड़ फेंका.झारखंड के हजारीबाग की रहने वाली इस मुस्लिम लड़की साहिला ने बिहार के बेगूसराय के रहने वाले हिंदू लड़के सोहन से शादी कर मिसाल कायम कर दिया.

मुस्लिम लड़की और हिंदू लड़के के प्रेम विवाह के साक्षी बने लोगाें ने इसे दहेजलोभी समाज के लिए प्रेरणादायक बताया.नौलखा मंदिर में हिंदू रीति-रिवाज से दोनों की शादी के दौरान मौके पर बड़ी संख्‍या में ग्रामीण भी मौजूद रहे.यह शादी पूरे इलाके में खास चर्चा का विषय बन गया है.मुस्लिम लड़की साहि‍ला परवीन उर्फ शालिनी झारखंड के हजारीबाग जिले की निवासी है.

बताया गया है कि साहेला परवीन ने खुशी-खुशी शालिनी कुमारी बनना स्‍वीकार कर लिया है.वह अब बेगूसराय जिले के फुलवड़िया थाना क्षेत्र के निपानिया गांव के निवासी सोहन कुमार की पत्‍नी बन गई है.सोहन करीब दो साल पहले हजारीबाग में नॉन- बैंकिंग कंपनी में काम करता था.इस दौरान ही पहले दोनों में दोस्ती हुई और फिर उनका प्यार धीरे-धीरे परवान चढ़ा। साहि‍ला परवीन एक दिन पहले ही सोहन के साथ अपने घर हजारीबाग से भागकर बेगूसराय पहुंची है.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top