Breaking News
Home / बॉलीवुड / खुद खेती करते है और जमीन पर धोती पहनकर खाते है सादी रोटी, ऐसी हो गयी नाना पाटेकर की जिन्दगी

खुद खेती करते है और जमीन पर धोती पहनकर खाते है सादी रोटी, ऐसी हो गयी नाना पाटेकर की जिन्दगी

नाना पाटेकर ने फिल्मों में कई शानदार और वर्सेटाइल किरदार निभाए है.उनकी एक्टिंग का हर कोई दीवाना है.हर कोई उनके किरदाओं में खो जाते है. महाराष्ट्र के रायगड़ जिले के मुरुद-जंजीरा में जन्मे नाना पाटेकर ने 1978 में आई फिल्म ‘गमन’ से बॉलीवुड में अपना कदम रखा था.नाना को इस फिल्म इंडस्ट्री में 40 साल से ज्यादा का समय हो चुका है.इतने लम्बे समय में उन्होंने कई सुपरहिट फिल्में हमें दी है.

इतने साल से काम करने के बाद नाना पाटेकर 10 मिलियन डॉलर (करीब 73 करोड़) की प्रॉपर्टी के मालिक हैं.इस प्रॉपर्टी में उनके पास मौजूद फॉर्महाउस, कारें और अन्य प्रापॅर्टी भी शामिल की गई है. आपको बता दें कि इतना सब होने के बाद भी नाना काफी साधारण जीवन जीना पसंद करते है.नाना को उनकी सादगीभरी जिंदगी जीने के लिए भी पहचाना जाता है. लेकिन क्या आपको पता है नाना पाटेकर कभी खुद से एक्टर बनने नहीं आए थे.नाना ने बताया था कि उनकी जरूरतों ने उन्हें एक्टिंग फिल्ड में डाला था. यही एक वजह है कि वह बॉलीवुड से होने के बाद भी वह बहुत ही साधारण जीवन जीना पसंद करते है.

आपको बता दें कि नाना पाटेकर अप्‍लाइड आर्ट में पोस्‍ट ग्रैजुएट हैं. इस अभिनेता ने पास पुणे के नजदीक खड़कवासला में 25 एकड़ में एक शानदार फॉर्महाउस है. नाना को जब भी एकांत में जाना होता है तो वह अपने फॉर्महाउस ही जाते है.आपको याद हो तो डायरेक्टर संगीत सिवान की वर्ष 2008 में आई फिल्म ‘एक : द पावर ऑफ वन’ की शूटिंग भी इसी फॉर्महाउस में की गई थी.

नाना न सिर्फ बाहर से देसी है बल्कि वह अपने फॉर्म हाउस पर धान, गेहूं और चना की खेती कर अपने लिए अनाज भी उगाते है. नाना पाटेकर के इस फॉर्महाउस में 7 कमरों के अलावा एक बड़ा सा हॉल भी मौजूद है. नाना ने इसको खूबसूरत बनाने के लिए सिंपल वुडन फर्नीचर और टेराकोटा फ्लोर लगवाया है.इस शानदार फॉर्महाउस की कीमत करीब 12 करोड़ रुपए बताई जाती है.

कुछ मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो नाना पाटेकर के पास 81 लाख रुपए की कीमत की एक ऑडी Q7 कार है. वहीं 10 लाख की एक महिन्द्रा स्कॉर्पियो और 1.5 लाख की कीमत की रॉयल एनफील्ड भी उनके पास मौजूद है.गौरतलब है कि 2015 में मराठवाड़ा और लातूर के सूखाग्रस्‍त किसानों को नाना पाटेकर ने सरकार से पहले मदद पहुंचाई थी. लगभग 100 किसान परिवारों को नाना पाटेकर ने 15-15 हजार रुपए के चेक बांटे थे.इसके साथ ही वे किसानों की मदद के लिए एक एनजीओ भी चलाते हैं.ज्ञात हो कि नाना पाटेकर फिल्‍मों में आने से पहले कभी सड़क पर जेब्रा क्रॉसिंग पेंट करने का काम करते थे.नाना के फार्महाउस में बड़ी संख्‍या में दुधारू गाय-भैंसे भी पाली हुई हैं.

 

नाना के साथ एक विवाद भी जुड़ा हुआ है. फिल्म एक्ट्रेस तनुश्री दत्ता ने वर्ष 2008 में नाना पाटेकर पर फिल्म हॉर्न ‘ओके’ प्लेसएसएस के सेट पर यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगाया था.मार्च 2008 में हुई इस शिकायत पर कुछ एक्शन नहीं लिया गया था.इसके बाद उन्होंने वर्ष 2018 में एक बार फिर इस मुद्दे को उठाया, जिससे पूरे बॉलीवुड से उन्हें सपोर्ट मिल रहा है. इस आरोप के बाद नाना पाटेकर ने तनुश्री पर मानहानि का केस लगा दिया था.

About Anant Kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *