Breaking News
Home / खबर / सिंगल चार्ज में दिल्ली से अहमदाबाद  पहुंचाएगी इलेक्ट्रिक कार सिर्फ 2 घंटे में होगी फुल चार्ज

सिंगल चार्ज में दिल्ली से अहमदाबाद  पहुंचाएगी इलेक्ट्रिक कार सिर्फ 2 घंटे में होगी फुल चार्ज

अब संसार में सभी लोग अपने ऐशो आराम को देखते हुए और जरूरतों के हिसाब से ही चीजों का उपयोग करने में विश्वास रखते हैं. लोगों को ज्यादा से ज्यादा ऐसी कार लांच करने की होड़ में लगी है.ऐसी ही अब कंपनियां कार लॉन्च करने में लगी हैं ऐसे में दुनिया में सबसे सर्वश्रेष्ठ इलेक्ट्रिक कार कंपनियां इंडिया में अपने मॉडल लांच कर रही हैं. बहुत जल्द ही Tesla को टक्कर देने वाली है.अमरीका की इलेक्ट्रिक कार इंडिया में बनाने जा रही है जो सिंगल चार्ज में दिल्ली से अहमदाबाद की दूरी तय कर लेगी.

 


Triton EV Model H
आपको बता दें जानकारी के अनुसार Tesla की प्रमुख प्रतिद्वंदी कंपनी Triton EV भारत में अपनी मैन्युफैक्चरिंग यूनिट लगाने जा रही है. इसके लिए तेलंगाना सरकार के साथ एमओयू भी साइन किया है.कंपनी ने अपने Model H को रिवील किया.कंपनी अब इस 8 सीटर एसयूवी को तेलंगाना के जहीराबाद में बनने वाले प्लांट में ही तैयार करेगी. इंडिया में यह कंपनी की पहली कार लांच हो सकती है.

 

 

सिंगल चार्ज में जाएं 1000 किलोमीटर से भी ज्यादा अमेरिका की इस इलेक्ट्रिक कार कंपनी  Triton EV  का कहना है कि उसके Model H इसकी लंबाई 5.6 मीटर होगी.यह एक बड़ी एसयूवी होगी कंपनी का यह भी दावा है कि इसमें 5,663 लीटर का स्पेस होगा.यह 7टन तक का वजन कैरी कर सकेगी. इस कार में 200 KWH का बैटरी पैक होगा.इस तरह सिंगल चार्ज में यह 1,200 किलोमीटर की दूरी तय करने में सक्षम होगी.इंडिया में 1000 किलोमीटर से ज्यादा की रेंज वाली पहली इलेक्ट्रिक कार है. ऐसे में इससे दिल्ली से अहमदाबाद की करीब 960 किलोमीटर और दिल्ली से सूरत की 11 50 किलोमीटर की दूरी सिंगल चार्ज में तय हो जाएगी.

 

कंपनी का ऐसा कहना है Triton EV Model H की बैटरी चार्जर की सुविधा के साथ आएगी इसलिए हाइपर चारजर से यह सिर्फ 2 घंटे में पूरी तरह चार्ज हो जाएगी. Triton EV का भारत उसके लिए एक अहम बाजार है. उसे वह यहां Make In India  अभी पेश कर रही है कंपनी की तलंगाना फैक्ट्री दुनिया में उसकी सबसे बड़ी इलेक्ट्रिक व्हीकल फैक्ट्री होगी.

 

खबरों के अनुसार Triton EV की प्रतिद्वंदी कंपनी texla से भारत सरकार ने देश में गाड़ियां बनाकर बेचने की बात कही है. सरकार ने उसे स्पष्ट संदेश दिया है कि वह चीन में बनी गाड़ियां हिंदुस्तान में ना बेचे.

About Anant Kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *