खबर

बीजेपी सांसद दिया कुमारी ने ताज महल को लेकर किया बड़ा खुलासा ,बोली हमारी है जमीन दस्तावेज भी है मौजूद

आपको बतादे ताजमहल कहे या तेजोमहालय को लेकर जारी विवाद के बीच बीजेपी सांसद दीया कुमारी ने दावा करदिया है  ताजमहल हमारी जमीन पर बना हुआ है. और इसके पेपर भी वो दिखाने के लिए वह तैयार हैं.

प्रेम की निशानी के रूप में जाना जाने वाला दुनिया के सात अजूबों में शुमार ताजमहल इन दिनों विवादों में है. ताजमहल और तेजोमहालय को लेकर जारी विवाद के बीच अब एक नया मोड़ आ गया है. राजस्थान में जयपुर राजघराने की पूर्व राजकुमारी और राजसमंद से बीजेपी सांसद दीया कुमारी ने आज मीडिया से बातचीत में दावा किया कि ताजमहल उनकी जमीन पर बना है. ताजमहल से पहले वहां रॉयल फैमिली का महल था. जिस पर शाहजहां ने कब्जा कर लिया था. उस वक्त शासन में होने के कारण परिवार उसका विरोध नहीं कर सका.


ताजमहल पर हक जताते हुए दीया कुमारी ने दावा किया है उनके पास ऐसे दस्तावेज मौजूद हैं जो बताते हैं कि पहले ताजमहल जयपुर के राजपरिवार का पैलेस हुआ करता था. जिस पर शाहजहां ने कब्जा कर लिया था. अब किसी ने  ताजमहल को लेकर आवाज उठाई और कोर्ट में याचिका दायर की है. सच सभी के सामने आना चाहिए.

आपको बतादे दीया कुमारी ने कहा कि ‘मैं यह तो नहीं कहूंगी कि ताजमहल को तोड़ देना चाहिए.लेकिन उसके कमरे खोले जाने चाहिए. ताजमहल में कुछ कमरे बंद हैं. कुछ हिस्सा वहां लंबे समय से सील है. निश्चित तौर पर उसकी इन्क्वायरी होनी चाहिए और उसे खोलना चाहिए. जिससे यह पता चले कि वहां क्या था और क्या नहीं था. वो सारे फैक्ट्स तभी एस्टेबलिश होंगे जब एक बार उसकी प्रॉपर इन्क्वायरी होगी.


देश में ऐसी खबरों का बाजार गर्म है ताजमहल में भगवान का मंदिर है. इसे लेकर दीया कुमारी से सवाल किया कि क्या वहां पर कोई मंदिर था? इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि अभी सारे डॉक्यूमेंट नहीं देखे हैं लेकिन वह प्रॉपर्टी हमारे परिवार की थी.आपको बतादे ये पहलीबार नहीं है जब  दीया कुमारी ने ऐसा बयान दिया है.देश के ऐसे मामलों में दीया कुमारी पहले भी चर्चा में रही हैं. अयोध्या जन्मभूमि पर श्रीराम मंदिर की सुनवाई के दौरान राम के वंशज को लेकर जब मुद्दा उठा तब भी जयपुर रॉयल फैमिली की इस सदस्य ने दावा किया था कि वे राम के वंशज हैं. इसके लिए वे कोर्ट में गवाही देने को भी तैयार थीं.आपकी जानकारी के लिए बता दें उत्तर प्रदेश के आगरा में बने ताजमहल को लेकर इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच में अयोध्या के बीजेपी नेता डॉ. रजनीश सिंह ने याचिका दायर की है. डॉ. सिंह ने अपनी याचिका में ताजमहल के उन 22 कमरों को खोलकर भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (ASI) से सर्वे कराने की मांग की है जो काफी समय से बंद हैं. याचिकाकर्ता मे कहा है. ताजमहल में हिंदू देवी-देवताओं की मूर्तियां और शिलालेख हो सकते हैं. अगर सर्वे होता है तो इससे मालूम चलेगा कि ताजमहल में हिंदू मूर्तियां और शिलालेख हैं या नहीं?

To Top