खबर

शादी के 3 दिन बाद तक दूल्हा-दुल्हन नहीं जा सकते टॉयलेट जाने किस देश में मनाई जाती है विचित्र परंपरा.

हम आपसे चर्चा  एक ऐसी अनोखी शादी को लेकर चर्चा करने जा रहे हैं जहां शादी के 3 दिन बाद तक दूल्हा-दुल्हन नहीं जा सकते हैं टॉयलेट तो आईये आपकी जानकारी के लिए बता दे कौन सा है ऐसा देश जहां यह अनोखी परंपरा का है रिवाज.ऐसी अनोखी शादी जहां 3 दिनों तक नवविवाहित जोड़ा टॉयलेट नहीं जाता उसको टॉयलेट में जाने के लिए बिल्कुल भी आजादी नहीं होती है.उस पर पूरी तरह पाबंदी लगाए हुए होते हैं.  यह प्रथा एक जनजाति की है जहां नवविवाहित जोड़े को एक रूम में बंद कर दिया जाता है और पूरे 3 दिनों तक टॉयलेट में नहीं जाने दिया जाता है.


खबरों के अनुसार इंडोनेशिया और मलेशिया के बोर्नियो प्रांत में रहने वाले टिडान्ग जाति के लोग इस विचित्र मान्यता का पालन करते हैं. टिडान्ग का अर्थ है पहाड़ों पर रहने वाले लोग इन जनजाति के लोग किसान होते हैं जो स्लैश एंड बर्न विद्या का प्रयोग किसानी में करते हैं.

 


खबरों के अनुसार इस जनजाति में कोई भी शादी होती है जब शादी के अगले 3 दिनों तक नवविवाहित जोड़े को एक कमरे में बंद कर दिया जाता है. यहां बाथरूम नहीं होता है. उन्हें 3 दिनों तक बाथरूम इस्तेमाल करने की इजाजत नहीं होती.

 

 

यानी उन्हें मल मूत्र त्यागने की चाहे जितनी भी जरूरत हो वह ऐसा बिलकुल नहीं कर सकते उन पर नजर रखने के लिए लोगों को कमरे के बाहर बिठाया जाता है. जिससे वह चोरी-छिपे भी ऐसा ना कर सके.


आपको बतादे अब यह प्रश्न उठता है ऐसी मान्यता के पीछे कारण क्या है. यहां के लोगों का ऐसा मानना है शादी का बंधन त्याग और कष्ट से बना होता है.ऐसे में अगर शादी के बाद शुरू के 3 दिन दूल्हा-दुल्हन इस कष्ट को निभा लेंगे उनका वैवाहिक जीवन खुशहाल बीतेगा. अनक शादी का रिश्ता चलेगा वह लंबे समय तक साथ रहेंगे.लेकिन अगर वह ऐसा नहीं कर पाते उनकी शादी जल्द टूट जाएगी या फिर जल्द ही मर जाएंगे. प्राप्त जानकारी के अनुसारजब यह जोड़ा अपना यह चैलेंज पूरा कर लेता है तब वह अपने परिवार के साथ जश्न मनाते हैं.यह प्रथा बहुत खतरनाक इसलिए हैं क्योंकि मल मूत्र को इतनी देर के लिए रोकना शरीर पर बुरा असर पड़ता है.इसलिए इस बात का बहुत ध्यान रखा जाता है. 3 दिन पति पत्नी को कम से कम खाने पीने के लिए दिया जाए. ये ऐसी प्रथा है जो की बहुत अजीब है लेकिन वहां के लोगों को इसी तरह अपने जीवन की शुरुआत करना होती हैं.

To Top