खबर

रिक्शा चालक के घर बिरयानी खाने पहुंची अमेरिकी महिला अतिथि देवो भवा की परंपरा देख भर आई आंखें

हमारे भारत देश में कई जगह ऐसी है जहां घर आए मेहमान को बहुत ज्यादा सम्मान दिया जाता है. हर तरह से वह सम्मान दिया जाता है.जिससे कि वो जाने के बाद उस दिए सम्मान को याद करें. कभी ना भुला सके. वैसे भी ऐसी मान्यता है हमारे देश में “अतिथि” देवो भावा.(Guests are like God) की परंपरा का पालन किया जाता है.

 

यानी यहां मेहमानों को भगवान माना जाता है और उनकी खूब सेवा की जाती है. लेकिन आज के समय में पश्चिमी रंग काफी नजर आता है लोगों में और ऐसा बहुत कम देखने को मिलता है. इस समय में ऐसी कोई परंपरा का पालन करते हुए व्यक्ति ही देखा जाता है तो यक़ीनन उसकी प्रशंसा बनती है.

आप बता देना महाराष्ट्र से एक ऑटो रिक्शा चालक को लेकर एक खबर आई है जहां उसने अमेरिका की एक महिला को उसके घर सम्मान पूर्वक भोजन कराया. इस ऑटो चालकों ने  इस परंपरा का पालन किया और एक अमेरिकी महिला को घर पर बिरयानी खाने के लिए आमंत्रित किया.

डीमैटिक नाम की कंपनी में ग्लोबल प्रोजेक्ट इंजीनियरिंग एकैडमी की डायरेक्टर किम रिंकी (Kim Rinke) अमेरिकी नागिरक हैं. जो इन दिनों पुणे Pune Maharashtra में हैं. उन्होंने अपने लिंक्डिन प्रोफाइल पर एक फोटो शेयर की जिसमें वो एक शख्स के साथ जमीन पर बैठकर खाना खाते दिखाई दे रही है.तस्वीर के साथ उन्होंने एक पोस्ट भी लिखा है. जिसे पढ़कर लोग उस अंजान शख्स की बहुत प्रशंसा कर रहे हैं.

किम ने अपने पोस्ट में लिखा, “इस हफ्ते मुझे एक रिक्शा चालक एंथनी ने अपने घर पर मेहमान के तौर पर न्योता दिया.एंथनी मुझे पुणे में यात्रा करने में मदद करता है.मैंने उसके घर पर घर की बनी बिरयानी का आनंद लिया.अच्छी बातें की बियर पिया और उसके बड़े बेटे के बर्थडे का केक खाया. उसके परिवार के पास मेरे परिवार की तुलना में इतना कम है मगर वो अपने समुदाय, मान्यता के मामले में बेहद अमीर है”. महिला ने अपने पोस्ट में आगे लिखा,”उसे ये देखकर अच्छा लगा कि पड़ोसी एक दूसरे के घर आराम से आते,जाते हैं और बचा हुआ खाना बांटकर खा लेते हैं क्योंकि उनके घर में फ्रिज नहीं है.

किम ने बताया जिस तरह से सतकार हुआ ये देखकर उनकी आंखें भर आईं और वो एंथनी के प्रति बहुत आभारी मेहसूस कर रही हैं और साथ में शर्मिंदा भी मेहसूस कर रही हैं. क्योंकि उन्होंने इससे पहले दूसरों की जिंदगी पर ध्यान ही नहीं दिया.उन्होंने लिखा अगर ये कहा जाए इस अनुभव से उनकी जिंदगी बदल गई तो वो इस अनुभव को कम आंकना होगा. ये अनुभव उनके लिए इमोशन्स से भरा था.जिसमें वो लौटकर आने के बाद भी डूबी हुई हैं.उन्होंने अपनी पोस्ट के अंत में लिखा,  वो उससे फिर मिलना चाहेंगी और भारतीय संस्कृति के बारे में ज्यादा जानना चाहेंगी.इसके अलावा वो बिना गंदगी फैलाए, हाथ से बिरयानी खाने की कला को भी सीखना चाहती हैं. इस पोस्ट के बाद सोशल मीडिया पर किम की भी बहुत प्रशंसा  की है. और उनका पोस्ट सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

 

 

To Top