खबर

MP ना पंडित ना मंत्र और हो गई शादी दूल्हे ने कहा मैं भारत के संविधान की शपथ लेता हूं कि

आपको बता दें खबरों के अनुसार मध्य प्रदेश में एक ऐसा विवाह संपन्न हुआ जहां नाही पंडित ना तंत्र-मंत्र दूल्हे ने अपने ही भारत देश के संविधान की शपथ ली और शादी के पवित्र बंधन में बंध गए.

MP neither Pandit nor Mantra and got married, the groom said that I take oath of the Constitution of India.

MP neither Pandit nor Mantra and got married, the groom said that I take oath of the Constitution of India.

आपको बता दें मध्यप्रदेश के सीहोर में अग्नि नहीं बल्कि बाबासाहेब अंबेडकर की फोटो को साक्षी मानकर वर-वधू ने सात फेरे लिए ना हीं मंगलसूत्र था और ना ही मांग में सिंदूर भरा गया. संविधान की शपथ लेकर नव दंपति एक दूजे के हो गए. वर वधू ने एक दूजे को माला पहनाई इसके बाद दोनों को संविधान की प्रस्तावना की शपथ दिलाई गई.

MP neither Pandit nor Mantra and got married, the groom said that I take oath of the Constitution of India.

MP neither Pandit nor Mantra and got married, the groom said that I take oath of the Constitution of India.

वर वधु ने पहले संविधान निर्माता डॉ बाबासाहेब आंबेडकर के तस्वीर पर फूल चढ़ाए. इसके बाद वर-वधू ने एक-दूसरे को वरमाला पहनाई भारतीय संविधान की प्रस्तावना का वचन कर शपथ दिलवाई गई. इसके पश्चात संविधान और डॉक्टर अंबेडकर के चित्र के समक्ष फेरे लेकर नव विवाहित जीवन की सामाजिक जिम्मेदारियों के निर्वाह का वचन लिया विवाह बंधन में बंध गए.इस अवसर पर मौजूद दोनों परिवार के लोगों ने दूल्हा और दुल्हन को आशीर्वाद दिया.

MP neither Pandit nor Mantra and got married, the groom said that I take oath of the Constitution of India.

MP neither Pandit nor Mantra and got married, the groom said that I take oath of the Constitution of India.

शहर के नदी चौराहा स्थित मालवीय समाज के मंदिर में यह विवाह संपन्न किया गया.इसमें वर-वधू की ओर से 10 से 15 लोग भी शामिल हुए और सभी ने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन भी किया.दूल्हे दीपक मालवीय ने बताया आज हमें गर्व है हमारे संविधान निर्माता बाबा साहेब आंबेडकर के चित्र के समक्ष फेरे लेकर विवाह हुआ है. समाज के लोग इसी तरह आगे आए और शादी करें.

MP neither Pandit nor Mantra and got married, the groom said that I take oath of the Constitution of India.

MP neither Pandit nor Mantra and got married, the groom said that I take oath of the Constitution of India.

आपको बतादे दुल्हन आरती मालवीय ने कहा, “संविधान की शपथ लेकर जीवन के नए सफर की शुरुआत की है. हमें काफी अच्छा महसूस हो रहा है.उन्होंने कहा लोगों को फिजूलखर्ची रोकने के लिए इस तरह के कम खर्च वाले विवाह का आयोजन करना चाहिए”.

 

To Top