खबर

मुसलमान से हिन्दू धर्म में आए जीतेन्द्र त्यागी एक बार फिर पलटे ,करेंगे सरंडर बोले लड़ाई में अकेला हो गया हूं

आपको बता दें जितेंद्र नारायण त्यागी उर्फ़ वसीम रिजवी एक बार फिर से चर्चाओं में है.त्यागी का कहना है सनातन धर्म को अपनाने के बाद से वह लड़ाई में अकेले हो गए हैं. लेकिन उन्हें घर वापसी का कोई मलाल नहीं है. धर्म संसद हेट स्पीच मामले में जितेंद्र नारायण त्यागी और वसीम रिजवी की अंतरिम जमानत समाप्त हो गई है.

Surrender of Jitendra Narayan Tyagi said after adopting Sanatan Dharma, I have become lonely in the fight

Surrender of Jitendra Narayan Tyagi said after adopting Sanatan Dharma, I have become lonely in the fight

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के तहत उन्होंने शुक्रवार को कोर्ट में सरेंडर कर दिया. जहां से उनको जेल भेज दिया गया है.धर्म वापसी पर बोलते हुए जितेंद्र नारायण त्यागी ने कहा, “जब से मैंने सनातन धर्म को अपनाया है तब से इस लड़ाई में अकेला हो गया हूं. लेकिन इसका मुझे कोई अफसोस नहीं है.मैंने काफी सोच समझ कर इस धर्म को अपनाया है. उन्होंने कहा घर वापसी करके उनको कोई मलाल नहीं है. उनको कोई निराशा नहीं है और वह लोगों से भी अपील करते हैं सब घर वापसी करें”.

इस्लाम छोड़ हिंदू बनेंगे वसीम रिजवी, यति नरसिंहानंद ग्रहण करवाएंगे सनातन धर्म

Surrender of Jitendra Narayan Tyagi said after adopting Sanatan Dharma, I have become lonely in the fight

Surrender of Jitendra Narayan Tyagi said after adopting Sanatan Dharma, I have become lonely in the fight

जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी ने आगे कहा,” इससे पहले भी मुझे ज्वालापुर के लोगों ने जेल के अंदर मारने की साजिश बनाई थी.लेकिन वह जेल प्रशासन के सख्त होने के कारण साजिश को अंजाम नहीं दे पाए” उधर अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष श्री महंत रवींद्र पुरी ने कहा, ” जब जितेंद्र नारायण त्यागी एक बार फिर जेल जा रहा है तो हम सबका मन दुखी है.आखिर हिंदू धर्म में आकर वसीम रिजवी जो अब जितेंद्र नारायण त्यागी बन गए हैं उन्हें मिला क्या?हम सबको जितेंद्र नारायण त्यागी का साथ देना चाहिए था जो हम सब ने नहीं किया”.

Surrender of Jitendra Narayan Tyagi said after adopting Sanatan Dharma, I have become lonely in the fight

Surrender of Jitendra Narayan Tyagi said after adopting Sanatan Dharma, I have become lonely in the fight

हरिद्वार की शांभवी धाम काली सेना के प्रमुख स्वामी आनंद स्वरूप ने कहा, जितेंद्र नारायण त्यागी के साथ हम कंधे से कंधा मिलाकर खड़े हैं.इस लड़ाई में जहां भी हम सब की जरूरत होगी तब जितेंद्र नारायण त्यागी के साथ खड़े दिखाई देंगे”.

 

To Top