Breaking News
Home / खबर / सरकार का बड़ा कदम, अब पेट्रोल-डीजल नहीं, बल्कि फ्लेक्सी फ्यूल से चलेंगी गाड़ियां

सरकार का बड़ा कदम, अब पेट्रोल-डीजल नहीं, बल्कि फ्लेक्सी फ्यूल से चलेंगी गाड़ियां

भारत सरकार जल्द ही देश मे फ्लेक्स फ्यूल इंजन को अनिवार्य कर सकती है जिसके बाद आम आदमी को तेल की बढ़ती कीमतों से राहत मिलेगी केंद्र सरकार को अगले 2 साल में पेट्रोल में 20 फ़ीसदी एथेनॉल ब्लेंडिंग के टारगेट के पूरा होने की उम्मीद है पेट्रोल और डीजल के दाम आसमान छू रहे हैं ऐसे में सरकार अब दूसरा रास्ता अपनाने जा रही है दरअसल केंद्र सरकार अगले कुछ दिनों में ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री में फ्लेक्स फ्यूल इंजन को अनिवार्य कर सकती है,


केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी के मुताबिक इस फैसले से ना सिर्फ किसानों को मदद मिलेगी बल्कि लोगों को फ्यूल की बढ़ती कीमतों से राहत मिलेगी! नितिन गडकरी ने रोटरी जिला सम्मेलन 2020-21 के दौरान कहा की ऑप्शनल फ्यूल इथेनॉल की कीमत 60 से 62 रुपए प्रति लीटर है जबकि देश में कई जगहों पर पेट्रोल की कीमत 100 रुपए पर प्रति लीटर से ज़्यादा है ऐसे में इथेनॉल के इस्तेमाल से देश के लोगों को 30 से 35 रुपए प्रति लीटर का फायदा होगा!


बता दे की इथेनॉल एक अल्कोहल की तरह है जिससे पेट्रोल में मिलाकर फ्यूल के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है इथेनॉल का प्रोडक्शन गन्ने से किया जाता है और इससे पेट्रोल के साथ मिलाकर 35 प्रतिशत तक कार्बन मोनोऑक्साइड कम किया जा सकता है इस पेट्रोल के लिये कम कीमत खर्च करनी होगी!

 

 

गौरतलब है की केंद्र सरकार अगले दो साल में पेट्रोल में 20 फ़ीसदी इथेनॉल ब्लेंडिंग के टारगेट को पूरा करना चाहती है जिससे देश को महंगे तेल आयात पर कम निर्भर होना पड़े पहले सरकार ने इसे 2025 तक पूरा करने का टारगेट रखा था जिसे अब 2023 तक पूरा करने की तैयारी है!!

sorce

About Anant Kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *