कुछ हटकर

मोर की आवाज से स्वागत, कूनो पार्क में ऐसे गुजरा चीतों का रविवार

दोस्तों 17 सितंबर को नामीबिया से 8 चीते भारत आए। सभी चीतों को स्पेशल चार्टर फ्लाइट से ग्वालियर लाया गया फिर हेलिकॉप्टर के जरिए मध्यप्रदेश स्थित कूनो नेशनल पार्क में गए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने जन्मदिन के मौके पर 17 सितंबर चीतों के लिए बनाए गए बाड़े में सभी चीतों को छोड़ा। कुनो नेशनल पार्क में चीतों के आने से सभी बहुत खुश है और अब टूरिज्म को भी बढ़ावा मिलेगा और बड़ी संख्या में लोग इन्हें देखने पहुचेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद लिवर दबाकर बक्से से चीतों को बाहर निकाला और उनकी तस्वीर भी ली।

Welcome with the voice of a peacock, the Sunday of cheetahs passed like this in Kuno Park

कूनो नेशनल पार्क में चीतों को पहले दिन नया-नया लगा। कुछ अंगड़ाई लेते हुए नजर आए तो कुछ बड़े में घूमते हुए दिखाई दिए। नेशनल पार्क में लाए गए चीतों के लिए रविवार का दिन कुछ नयासा था। नए माहौल और नई जगह को देखकर चीतों सहमे हुए और डरे हुए नजर आए। सुबह – सुबह चीतों की गुर्राहट सुनाई दी तो कुछ अन्य वन्यप्राणियों की आवाज सुनकर चीते सतर्क भी दिखाई दिए। मोर की आवाज के साथ चीतों की सुबह हुई और गुर्राहट के साथ नई सुबह का स्वागत किया।

जन्मदिन पर माँ के साथ पूरा दिन बिताएंगे नरेंद्र मोदी ,100 की हो जाएँगी पीएम मोदी जी की माता

Welcome with the voice of a peacock, the Sunday of cheetahs passed like this in Kuno Park

बताया जा रहा है कि कूनो नेशनल पार्क में 8 अफ्रीकी चीतों में से तीन नर जीते हैं और उसमें से दो चीते आपस में भाई हैं। दोनों चीजें एक साथ बारे में रहते हैं एक साथ पूरे बाड़े का मुआयना करते हैं तो कभी गले मिलते हुए भी नजर आते हैं। तो कभी पानी पीते हुए भी साथ में पीते हैं साथ मे गोश्त खाते है और सोते है। कूनो नेशनल पार्क में मौजूद 8 अफ्रीकी चीतों का नामकरण भी जल्दी किया जाएगा। कुल 8 चीतों में से 5 मादा चीते हैं और 3 नर चीते हैं। चीतों की आबादी को बढ़ाने के लिए भी आगे प्रयास किए जाएंगे।

Welcome with the voice of a peacock, the Sunday of cheetahs passed like this in Kuno Park

कूनो नेशनल पार्क में चीतों की वापसी 70 साल बाद हुई। कूनो नेशन पार्क भारत के मध्य प्रदेश में है और 1981 में इसका निर्माण हुआ था। 2018 में इसे राष्ट्रीय उद्यान का दर्जा भारत दिया गया। यह पार्क 750 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है। कूनो नेशनल पार्क में मौजूद चीतों की कई खूबसूरत तस्वीर सामने आई है। कूनो नेशनल पार्क में चीतों की 70 साल बाद जोरदार वापसी हुई है। हालांकि अभी चीतों की हर गतिविधियों पर नजर रखी जा रही हैं। कैमरे के जरिए चीतों की हरकतों को रिकॉर्ड किया जा रहा है। सुरक्षा व्यवस्था में भी कई विशेषज्ञ लगे हुए हैं और निगरानी कर रहे हैं।

To Top