खबर (News)

बैंक की सरकारी नौकरी छोड़ अपनी किस्मत आजमाने सिनेमा में खाये थे धक्के ,आज बन गए टीवी के सबसे सफल कलाकार

हम आपसे आज बात करेंगे बॉलीवुड फिल्मी दुनिया और टीवी के मशहूर शो के शानदार अभिनेता एक्टर शिवाजी जिन्होंने अपने अभिनय से खास पहचान प्राप्त की है.इधर उधर धक्के खाना पड़े एक्टिंग में नाम कमाने के लिए. हम बात कर रहे हैं एक्टर शिवाजी जिन्होंने एक्टिंग की दुनिया में ही अपना करियर बनाने के लिए मन लगाया. शुरू से ही एक्टिंग का काफी शौक हुआ करता था. हम बात कर रहे हैं टीवी पर देख के फेमस शो सीआईडी के एसीपी प्रद्युमन जिन्होंने अपने इस किरदार से दर्शकों के मन में खास जगह बनाई हैं.

खाना के बाद करने जा रहे हैं बॉलीवुड और टीवी दुनिया के मशहूर एक्टर शिवाजी साधन जो कि 30 अप्रैल को जन्मे थे शिवाजी नाम सुनते ही आप सोच रहे होंगे कि यह चेहरा कौन है तो आपको बता दें सीआईडी के एसीपी प्रद्युमन के बारे में हम बात कर रहे हैं.

जाने-माने मशहूर अभिनेता ने कई बड़े कलाकारों के साथ अभिनय किया है फिल्मी पर्दे पर भी शानदार अभिनय से छाप छोड़ी है सीआईडी से मिली लोकप्रियता के बाद लोगों ने सच का ऐसे भी समझने लगे हैं.

एक्टर शिवाजी ने वास्तव, गुलाम-ए-मुस्तफा,सूर्यवंशम नायक जैसी सुपरहिट फिल्मों में काम किया है इसके अलावा वह मराठी और अंग्रेजी फिल्मों में भी काम कर चुके हैं. वही आपको बतादे एक शून्य शून्य सीरियल में शिवाजी साटम एसीपी श्रीकांत पाटकर की भूमिका निभाते नजर आए थे. लेकिन लोकप्रियता उन्हें सीआईडी का एसीपी प्रद्युमन बनकर ही मिली.

एक्टर शिवाजी फिल्मी दुनिया में आने से पहले  सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया में कैशियर की नौकरी करते थे. लेकिन अभिनय में उनकी रूचि ने उन्हें थियेटर ग्रुप ज्वाइन करने पर मजबूर कर दया वे अपनी जॉब से टाइम निकालकर थियेटर सीखने जाते थे. इंटर बैंक स्टेज कॉप्टीशन के दौरान थियेटर एक्टर बाल धूरी ने उनकी प्रतिभा को पहचाना और उन्हें अभिनय का मौका दिया. कुछ समय थियेटर सीखने के बाद उन्हें रिश्ते-नाते नाम का शो मिला. उन्होंने वर्ष 1988 में फिल्म ‘पेस्टनजी’ से बॉलीवुड फ़िल्मी दुनिया में कदम रखा.एक्टर शिवाजी ने सीरियल सीआईडी में 1997 से अभिनय कर रहे हैं और अपने इस किरदार के कारण कई सारे पुरस्कार भी जीत चुके हैं. बीपी सिंह के निर्देशन में बना ये शो भारतीय टेलीविजन पर सबसे लंबा चलने वाला शो साबित हुआ.इसका पहला एपिसोड 23 साल पहले 21 जनवरी 1998 में ऑन एयर किया गया था जो वर्ष 2018 तक चला. इस शो के दौरान शिवाजी के कुछ डायलॉग जैसे ‘कुछ तो गड़बड़ है, दया दरवाजा तोड़ दो बहुत फेमस रहे है.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top