Breaking News
Home / बॉलीवुड / तो इस खास दिन रिलीज होगी करीना कपूर के चाचा की आखिरी फिल्म 35 दिन पहले हुई थी हार्ट अटैक से मौत…

तो इस खास दिन रिलीज होगी करीना कपूर के चाचा की आखिरी फिल्म 35 दिन पहले हुई थी हार्ट अटैक से मौत…

आज हम आपसे बात करने जा रहे हैं बॉलीवुड फिल्म दुनिया की जानी-मानी हस्ती करीना कपूर के चाचा जो के बॉलीवुड फिल्में दुनिया के शो मैन कहे जाने वाले राज कपूर के बेटे राजीव कपूर के बारे में उनकी अंतिम फिल्म तुलसीदास जूनियर के विषय में। आपको बता दें फिल्म तुलसीदास दो जूनियर की रिलीज डेट सामने आ चुकी है राजीव कपूर की मौत के बाद उनकी आखिरी फिल्म इसी वर्ष 30 अप्रैल को रिलीज होगी.इस फिल्म का पोस्टर दिसंबर 2020 में लांच किया गया था.पिंकविला की रिपोर्ट के मुताबिक फिल्म के प्रोड्यूसर भूषण कुमार और आशुतोष गोवारीकर ने फैसला किया है. कि इस फिल्म को 30 अप्रैल को रिलीज किया जाएगा.

आपको बता दें कि 30 अप्रैल 2020 को राजीव के बड़े भाई ऋषि कपूर का निधन हुआ था. इस फिल्म की शूटिंग वर्ष 2018 में शुरू की गई थी. आपको बता दें इस फिल्म में संजय दत्त अहम किरदार निभा रहे हैं इसमें वह एक स्नूकर कोच के किरदार में दिखाई देने वाले हैं फिल्म सिनेमाघरों में रिलीज होगी आपको बता दें कि राजीव कपूर का निधन 9 फरवरी को अचानक दिल का दौरा पड़ने से हो गया था. राजीव के बड़े भाई रणधीर कपूर ने बताया था घर में हार्ट अटैक आने के बाद उन्हें चेंबूर के इनलेट अस्पताल ले जाया गया था.लेकिन अस्पताल में भर्ती होने से पहले ही डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया था अफसोस कि हम उन्हें बचा नहीं सके.

आपको बता दें वहीं अगर हम राजीव कपूर के करियर की बात करें तो उनका शुरुआती फिल्म एक जान है हम से की थी 1983 में आई फिल्म सुपरहिट रही थी लेकिन पहली ही फिल्म हिट होने के बाद भी राजीव कपूर का कैरियर अच्छा नहीं चल पाया कुछ भी फिल्मों में काम करने के बाद राजीव कपूर ने एक्टिंग का रास्ता छोड़ दिया और डायरेक्शन करने लगे थे. बता दी राजीव कपूर को रामतेरीगंगामैली फिल्म से भी पहचान मिली थी.

आपको बता दें यह बात कम ही लोग जानते हैं कि राजीव कपूर के अपने पिता राज कपूर से संबंध अच्छे नहीं थे उन दोनों के बीच कभी नहीं बनती थी और इसकी सबसे बड़ी वजह यह थी कि फिल्म राम तेरी गंगा मैली बेटे राजीव कपूर का कैरियर संवारने राज कपूर ने उन्हें लेकर फिल्म राम तेरी गंगा मैली बनाई थी इस फिल्म में राजीव के साथ मंदाकिनी लीड रोल में थी. ऐसा कहा जाता है कि फिल्म नाहिद तो रही लेकिन मंदाकिनी का रोल ज्यादा दमदार था इस कारण मंदाकिनी को सारी सफलता मिल गई थी. आपको बता दें जहां एक और फिल्म की सफलता होती जा रही थी वही राजीव कपूर के अपने पिता से नाराजगी बढ़ती गई दोनों के बीच अनबन की नौबत तक आ गई जब फिल्म मंदाकिनी के इर्द-गिर्द ही सिमट कर रह गई फिल्म हिट होने के बाद भी राजीव कपूर को इसका कोई फायदा नहीं मिला।

जहां इस फिल्म की सफलता के बाद मंदाग्नि रातों-रात स्टार बन गई लेकिन राजीव कपूर की सफलता में कोई भी बढ़ोतरी नहीं मिली. राजीव कपूर अपने पिता राज कपूर को इसका दोषी मानने लगे. आपको बता दें राजीव कपूर अपने पिता राज कपूर से चाहते थे कि वह एक और फिल्म बनाएं और वह चाहते थे कि राज कपूर उन्हें इस फिल्म में एक हीरो की तरह फिल्म में लीड रोल दे। और फिल्म का पूरा फायदा राजीव कपूर को मिले राजी कपूर के चाहने के बावजूद भी राज कपूर ने ऐसा नहीं किया और राजीव को राज कपूर ने एक असिस्टेंट के तौर पर रखा. आपको बता दें इतना ही नहीं हो राजीव कपूर से यूनिट का वह सारा ही कार्य करवाते थे जो एक स्पॉटबॉय और असिस्टेंट करता था राजीव ने अपने पिता राज कपूर से इसी बात को लेकर चले थे कि वह उनको लेकर कोई फिल्म क्यों नहीं बना रहे कहां जाता है कि राजीव कपूर अपने पिता से इतने नाराज थे कि उनके अंतिम दर्शन के लिए भी उनकी अंतिम यात्रा में नहीं गए. इतना ही नहीं वह पूरे कपूर परिवार से खुद को अलग कर कर पूरे 3 दिन तक शराब के नशे में रहे.

 

About Anant Kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *