Breaking News
Home / कुछ हटकर / 150 रुपए में ढाबे पर काम करने वाले की बदली किस्मत ,ख़रीदी 1.5 करोड़ की कार,16 लाख में लिया कार का नम्बर

150 रुपए में ढाबे पर काम करने वाले की बदली किस्मत ,ख़रीदी 1.5 करोड़ की कार,16 लाख में लिया कार का नम्बर

कुछ लोग सिर्फ किस्मत के भरोसे रहते हैं जबकि कुछ लोग किस्मत से ज्यादा अपनी मेहनत पर भरोसा करते हैं.आज हम आपको एक ऐसे ही शख्स के बारे में बताने जा रहे हैं जिसने किस्मत से ज्यादा अपनी मेहनत पर भरोसा था.आज उसकी मेहनत ने उसे जो मुकाम दिया है वह जानकर आप हैरान हो जायेंगे। कभी ढाबे पर 150 रुपए में नौकरी करने वाला शख्स आज काफी अमीर हो चुका है। मंगलवार को उसी व्यक्ति ने अपनी डेढ़ करोड़ की लग्जरी कार के लिए 16 लाख का आरजे 45 सीजी 001 नंबर खरीदा.

स्वेज फॉर्म में रहने वाले राहुल तनेजा ने इससे पहले भी 2011 में अपनी बीएमडब्ल्यू 7 सीरीज के लिए 10 लाख का वीआईपी 0001 खरीदा था.परिवहन अधिकारियों के मुताबिक अभी तक देश का सबसे महंगा नंबर है। इससे पहले 11 लाख रुपए तक के नंबर बिके हुए हैं.

राहुल तनेजा इवेंट व वेडिंग मैनेजमेंट कंपनी लाइव क्रिएशन्स के फाउंडर हैं। डीटीओ (डिस्ट्रिक ट्रांसपोर्ट ऑफीसर) अनिल सोनी ने बताया कि यह अब तक का प्रदेश का सबसे महंगा नंबर है.मध्यप्रदेश के कटला के रहने वाले राहुल के पिता टायर पंचर लगाने का काम करते थे.जिन्दगी में कुछ कर गुजरने के लिए छोटी उम्र में घर छोड़कर जयपुर आ गए.जहां आदर्शनगर में एक ढाबे पर 150 रुपए में नौकरी की.नौकरी करते हुए राहुल ने राजापार्क स्थित आदर्श विद्या मंदिर में पढ़ाई भी की.

दोस्तों की किताब, कॉपी और पासबुक्स मांगकर पढ़ाई की और 92 प्रतिशत अंक हासिल किए.राहुल के अनुसार दो साल तक ढाबे पर नौकरी के बाद दीवाली पर पटाखे और होली पर रंग तो मकरसंक्रान्ति पर पतंगें बेचने का काम किया.रोजी-रोटी के लिए घर-घर तक अखबार पहुंचाया और फिर रात को ऑटो चलाया.

 

राहुल ने बताया कि एक दिन उनकी पर्सनालिटी देखकर मोहल्ले के कुछ लड़कों ने मॉडलिंग की सलाह दी.मॉडलिंग में मिस्टर जयपुर, मिस्टर राजस्थान और मेल ऑफ़ दी ईयर के टाइटल जीते.इसके बाद उन्हें लगातार शो मिलते चले गए। बाद में इवेंट किए.अब राहुल वेडिंग्स के इवेंट्स कर रहे हैं.राहुल का शुरू से ही एक नंबर से खास नाता है.उनके मोबाइल और लैंड लाइन के अंतिम सात नंबर और कारों के नंबर भी एक ही हैं.

About Anant Kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *