Breaking News
Home / खबर / जानिये आखिर क्यों इस बस ड्राइवर को रजनीकांत समर्पित किया दादा साहब फाल्के अवार्ड

जानिये आखिर क्यों इस बस ड्राइवर को रजनीकांत समर्पित किया दादा साहब फाल्के अवार्ड

राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार समारोह में प्रतिष्ठित दादासाहेब फाल्के पुरस्कार से सुपरस्टार रजनीकांत को सम्मानित किया गया,उन्होंने यह पुरस्कार अपने गुरू एवं फिल्म निर्देशक दिवंगत के,बालचंदर, अपने तकनीकी सहायकों, प्रशंसकों व मित्रों, चालक एवं सिनेमा में आने की प्रेरणा देने वाले पूर्व सहकर्मी राजबहादुर को समर्पित किया,

राजबहादुर सुपरस्टार रजनीकांत के 50 वर्ष पुराने मित्र हैं,जानकारी के अनुसार जब रजनीकांत बस में कंडक्टर हुआ करते थे,उस समय राजबहादुर उसी बस के ड्राइवर स,राजबहादुर और रजनीकांत की दोस्ती साल 1970 में हुई थी,राजबहादुर और रजनीकांत में काफी गहरी दोस्ती हो गई थी। रजनीकांत कई मौकों पर अपने इस पुराने दोस्त को याद कर चुके हैं,वही राजबहादुर भी रजनीकांत को बहुत याद करते हैं,

अपने प्रशंसकों द्वारा‘थलाइवा’ (तमिल में नेता) के नाम से पुकारे जाने वाले रजनीकांत ने 2019 के लिए भारतीय सिनेमा के सर्वोच्च सम्मान दादासाहेब फाल्के पुरस्कार ग्रहण करते हुए तमिलों और मीडिया सहित कई सारे लोगों का शुक्रिया अदा किया,उन्होंने कहा,‘‘मैं यह पुरस्कार प्राप्त कर बहुत खुश हूं…और इस सर्वाधिक प्रतिष्ठित दादा साहेब फाल्के पुरस्कार के लिए सरकार का शुक्रिया अदा करता हूं,मैं यह पुरस्कार अपने गुरु के बालचंदर सर को समर्पित करता हूं,मैं अपने भाई सत्यनारायण राव का शुक्रिया अदा करता हूं,जो मेरे लिए पिता तुल्य हैं,

अभिनेता ने पुरस्कार ग्रहण करने पर अपने संबोधन में कहा,‘‘मेरे मित्र, चालक और परिवहन विभाग में सहकर्मी राजबहादुर, उन्होंने मुझमें प्रतिभा देखी और मुझे सिनेमा में जाने के लिए प्रेरित किया,उन्होंने कहा,‘‘मेरी फिल्म बनाने वाले मेरे सभी फिल्म निर्माताओं, निर्देशकों, तकनीकी सहायकों, कलाकारों, वितरकों, मीडिया , प्रेस और मेरे सभी प्रशंसकों तथा तमिलों का शुक्रिया,उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने रजनीकांत को महान देश का महान सपूत बताया,उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि अभिनेता ने ‘भैरवी’ और ‘शिवाजी’ में यादगार अभिनय किया है,

नायडू ने कहा कि अभिनेता के अनूठे अभिनय कौशल ने भारतीय फिल्म उद्योग को एक नया आयाम दिया,रजनीकांत ने 1975 में बालचंदर की फिल्म ‘अपूर्वा रागंगल’ से अभिनय की शुरूआत की,उन्होंने ‘हम’,‘चालबाज’,‘ भगवान दादा’ से लेकर ‘काला’ जैसी हिंदी फिल्मों में भी काम किया तथा उनकी आगामी फिल्म ‘अनंते’ है,

पिछले साल दिसंबर में उन्होंने चुनावी राजनीति में उतरने की घोषणा की,हालांकि, बाद में उन्होंने एलान किया कि वह अपनी खराब सेहत के कारण राजनीति में नहीं आएंगे,पुडुचेरी की उप राज्यपाल तमिलिसाई सौंदरराजन ने दादा साहेब फाल्के पुरस्कार मिलने पर रजनीकांत को एक बधाई संदेश में कहा कि अभिनेता को अब केंद्र सरकार ने भी मान्यता दे दी है,

About Anant Kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *