मनोरंजन

दूसरे शोज करने पर तारक मेहता के बाबूजी ने कही इतनी बड़ी बात ,बताया किस बात का लगता है डर

छोटे पर्दे के ऐसे कई सीरियल है जो लंबे समय से दर्शकों के दिलों में खास जगह बनाते आए हैं.उनमें से एक कॉमेडी सीरियल तारक मेहता का उल्टा चश्मा भी है.यह सीरियल करीब 12 सालों के दर्शकों का मनोरंजन कर रहा है.तारक मेहता का उल्टा चश्मा के सभी कलाकार अपने किरदारों की वजह से घर-घर में मशहूर हैं.उनमें से एक किरदार चंपक चाचा यानी बापू जी का है.

तारक मेहता का उल्टा चश्मा में चंपक चाचा का किरदार अमित भट्ट करते हैं.उनके इस किरदार को दर्शक खूब पसंद भी करते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि अमित भट्ट को सीरियल में यह किरदार बिना कोई ऑडिशन दिए मिल गया था? अमित भट्ट ने इस बात का खुलासा खुद एक मीडिया इंटरव्यू में किया है.उन्होंने बताया कि तारक मेहता का उल्टा चश्मा में चंपक चाचा का किरदार करने के लिए उन्होंने कोई ऑडिशन नहीं दिया था.

अमित भट्ट के अनुसार,उन्होंने चंपक चाचा के किरदार के लिए कोई ऑडिशन या इंटरव्यू नहीं दिया है.तारक मेहता का उल्टा चश्मा के निर्माता असित मोदी को सीरियल के मुख्य अभिनेता दिलीप जोशी (जेठालाल) ने अमित भट्ट का नाम सुझाया था.इसके बाद असित मोदी ने अमित भट्ट से एक होटल में मुलाकात की.इस दौरान इन दोनों की बातचीत में ही तय हो गया कि चंपक चाचा का किरदार अमित भट्ट करेंगे.

तारक मेहता का उल्टा चश्मा में अमित भट्ट का एक बुजुर्ग चाचा का किरदार है, लेकिन जीतने बुजुर्ग वह सीरियल में दिखते हैं उतने बुजुर्ग वह नहीं हैं.अमित भट्ट को जब चंपक चाचा का किरदार करने का मौका मिला था तो वह कुल 36 साल के थे.अब तारक मेहता का उल्टा चश्मा सीरियल को 12 साल हो चुके हैं, लेकिन अमित भट्ट के अभिनय के हर दिन नए रंग देखने को मिलते हैं.

अमित भट्ट की निजी जिंदगी की तो वह उत्तराखंड के रहने वाले हैं.अमित भट्ट की पत्नी का नाम कृति भट्ट है.अमित और कृति जुड़वा बच्चों के माता-पिता हैं.तारक मेहता का उल्टा चश्मा में भी अमित भट्ट के दोनों बच्चे दिखाई दे चुके हैं.वहीं अमित भट्ट सोशल मीडिया पर भी काफी सक्रिय रहते हैं.अपने फैंस के लिए खास तस्वीरें और वीडियो भी साझा करते रहते हैं.

अमित भट्ट आगे कहते हैं कि सच बताऊं तो 12 साल बहुत लंबा टाइम है.इससे क्या हुआ है कि बोरियत नहीं आई है, लेकिन डर लगता है कि लोगों के दिमाग में एक किरदार की एक इमेज हो जाती है.आप जो कह रहे हैं कि यह करना है वह करना है तो उस सब पर अब ताला लगा है, क्योंकि ऐसा है कि आगे चलकर ऐसा क्या करेंगे कि शायद यह जो इमेज है बनी हुई उससे कहीं लोगों के दिल में ठेस न पहुंचे

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top