Breaking News
Home / बॉलीवुड / सिद्धार्थ राय कपूर ने विद्या बालन से तीसरी शादी,दिलचस्प है दोनों की लव स्टोरी…..

सिद्धार्थ राय कपूर ने विद्या बालन से तीसरी शादी,दिलचस्प है दोनों की लव स्टोरी…..

आज हम आपसे बॉलीवुड फिल्मी दुनिया की ऐसी हस्ती के बारे में बात करेंगे जिन्होंने बहुत सी सफल प्रमुख फिल्मों को प्रोड्यूस किया है. जी हां हम बात कर रहे हैं मशहूर प्रोड्यूसर सिद्धार्थ राय कपूर के बारे में जिनको विद्या बालन के पति के नाम से ज्यादा जानते हैं. विद्या बालन बॉलीवुड फिल्मी दुनिया में अपने अभिनय से अपनी खास पहचान बना चुकी हैं विद्या बालन और सिद्धार्थ रॉय कपूर दोनों ही मशहूर हस्तियां हैं.सिद्धार्थ राय कपूर की हम बात करें तो वह यूटीवी में बतौर इंटर्न शुरू हुआ उनका सफर अब मैनेजिंग डायरेक्टर तक पहुंच चुका है.लेकिन फिर भी ना जाने क्यों वो आज भी विद्या बालन के पति के नाम से ज्यादा पहचाने जाते हैं. सिद्धार्थ राय कपूर की अगर हम प्रोड्यूस की फिल्मों की बात करें तो पीहू,दंगल, सत्याग्रह,चेन्नई एक्सप्रेस, हीरोइन,बर्फी आदि इन सफल फिल्मों को सिद्धार्थ राय कपूर ने प्रोड्यूस भी किया है.

अगर हम सिद्धार्थ राय कपूर की पर्सनल लाइफ की बात करें तो विद्या बालन उनकी तीसरी पत्नी है सिद्धार्थ राय के जन्मदिन के अवसर पर आज हम उनकी लव लाइफ के बारे में आपसे कुछ बातें करेंगे. सिद्धार्थ राय का जन्म 2 अगस्त 1974 को हुआ था .अगर उनकी लव लाइफ की बात करे तो सिद्धार्थ राय और विद्या बालन की लव लाइफ किस तरह शुरू हुई. आपको बता दें सिद्धार्थ रॉय कपूर की पत्नी तीसरी पत्नी विद्या बालन है. सिद्धार्थ ने पहली शादी अपनी बचपन की दोस्त आरती बजाज से की थी लेकिन यह शादी ज्यादा टाइम नहीं चली दोनों ने एक दूसरे से अलग होने का निर्णय लिया और अलग हो गए.

आरती बजाज के बाद सिद्धार्थ ने टीवी प्रोड्यूसर कविता से शादी की उनकी यह दूसरी शादी भी ज्यादा नहीं चल पाए वर्ष 2011 में कविता सिद्धार्थ का तलाक हो गया और दोनों अलग हो गए थे.इसके बाद सिद्धार्थ का दिल विद्या बालन पर आ गया.विद्या को शादी के लिए मनाने के लिए सिद्धार्थ को बहुत ज्यादा जतन करने पड़े थे. विद्या बालन सिद्धार्थ राय कपूर की पहली मुलाकात फिल्म फेयर अवार्ड के बैकस्टेज में हुई थी.इसके बाद करण जौहर ने भी दोनों की मुलाकात कराई थी.

करण जौहर दोनों के कॉमन फ्रेंड है सिद्धार्थ विद्या दोनों ही फिल्म इंडस्ट्री में बहुत ही ज्यादा मशहूर थे इसलिए बाहर आना-जाना मिलना जुलना बहुत कम हो पाता था इसी कारण से दोनों मिलते कम थे लेकिन दोनों की बातें कुछ ज्यादा हुआ करती थी इस तरह ही दोनों की नजदीकियां धीरे-धीरे बढ़ने लगी और विद्या ने 14 दिसंबर 2012 को सिद्धार्थ राय के साथ शादी कर ली. दोनों की शादी मुंबई के बांद्रा इलाके में स्थित ग्रीन गिफ्ट नाम के बंगले में हुई थी. इनकी शादी एक प्राइवेट सेरेमनी में हुई थी. इसमें सिर्फ दोनों के परिवार के लोग और कुछ करीबी दोस्त ही शामिल हुए थे.

वहीं अगर हम एक्ट्रेस विद्या बालन की बात करें तो वह प्यार के बारे में अलग ही राय रखती हैं. उनका कहना है कि जब आप किसी ऐसे इंसान के साथ प्यार में होते हैं जो आपको बिना किसी कंडीशन के एक्सेप्ट करता है तो यह आपके लिए किसी सेलिब्रेशन से कम नहीं होता. विद्या ने एक इंटरव्यू के दौरान अपनी मैरिड लाइफ को लेकर कई सारे खुलासे किए थे विद्या के अनुसार जब मैं सिद्धार्थ के प्यार में पड़ी तो मैंने पाया कि प्यार उससे बिल्कुल डिफरेंट होता है.जैसे कि मैं इसके बारे में सोचती थी इसकी सबसे बड़ी खूबसूरती यही है कि मैंने जैसा सोचा था वह उससे भी ज्यादा बेहतर है विद्या ने कहा था कि मैं मेरे पति साथ जरूर रहते हैं.लेकिन जिम्मेदारियों पर अलग सोच रखते हैं.मेरी कई दोस्त हैं जिन्हें लगता है कि अगर मेरे पति मेरी बात को सुनते समझते हैं उसका सम्मान करते हैं तो ऐसा इसलिए क्योंकि मैं उन पर काबू रखती हूं वही मेरे पति से कई दोस्त कहते हैं कि तुम अपनी वाइफ पर कंट्रोल नहीं रखते क्योंकि वह डोमिनेटिंग नेचर की होगी.विद्या ने कहा कि कई बार समाज के डर तारों से आप वैसे ही बने रहने का धूम तो करते हैं लेकिन इसका असर आपके रिश्ते पर पड़ने लगता है लेकिन लोगों की बातों की परवाह ना किए और बगैर आपको अपने पार्टनर के साथ उसकी बातों को तवज्जो देते हुए अपने रिश्ते को खुशी से आगे बढ़ाने की कोशिश करनी चाहिए उन्होंने कहा कि जब आप अपने पार्टनर की बातों को भी महत्व देते हैं उन्हें सुनते हैं तो सिर्फ उन्हें खुशी नहीं मिलती बल्कि अपने नए विचारों से भी अवगत होते हैं ऐसे मैं आपका ज़िन्दगी को देखने का नजरिया भी बेहतर होने लगता है.अपने रिश्ते को कैसे बहतर बनाना है. आपका ध्यान इस ओर लगने लगता है. विद्या ने कहा कि जो लोग अपने पार्टनर के साथ ज्यादा खुश कूल रहते हैं उनका रिश्ता भी समय के साथ स्ट्रांग होता चला जाता है. वही जिन लोगों में मीनमेट निकालने की आदत ज्यादा होती है वह अपनी सोच के दायरे को ज्यादा आगे तक बढ़ा पाने में सक्षम नहीं हो पाते हैं समाज आसपास के लोग क्या कहते हैं इन बातों पर ध्यान ना देते हुए आपको अपने पार्टनर के साथ फ्रेंडली बिहेवियर रखने पर जोर देना चाहिए.

About Anant Kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *