Breaking News
Home / कुछ हटकर / तेलंगाना के गांव में सोनू सूद को दिया गया भगवान का दर्जा, लोगों ने मंदिर बनाकर की मूर्ति की स्थापना

तेलंगाना के गांव में सोनू सूद को दिया गया भगवान का दर्जा, लोगों ने मंदिर बनाकर की मूर्ति की स्थापना

कोरोना महामारी के कारण हुए देशव्यापी लॉकडाऊन में मजदूरों के पलायन की घटना ने सबको झकझोर के रख दिया था.बेबस बेसहारा मजदूर अपनी आजीविका के लिए बड़े शहरों में आए थे लेकिन कोरोना के चलते उन्हें अपने जीवन यापन में समस्या उत्पन्न होने लगी.मजबूर होकर वे अपने घरों की ओर पैदल रवाना हो हुए. इस दुखद घड़ी में बॉलीवुड के विलेन कहे जाने वाले सोनू सूद उनके हीरो बनकर सामने आए.उन्होंने अपने खर्चे पर इन मजदूरों को उनके घर पहुंचाने का काम किया.इस वजह से सोनू सूद इन दिनो सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बने हुए है.

लोगो की मदद करने में आगे रहने वाले सोनू सूद अकसर सोशल मीडिया पर फैंस से बात करते है और उनकी मदद करते हे.सोनू सूद ने हाल ही में एक ट्विट किया जिसमे कुछ लोगो द्वारा उनकी मूर्ति बनाकर पूजा करते हुए दिखाए गए थे.यह मंदिर तेलंगाना के डब्बा गांव का है.

जिसमे कुछ लोग उनकी मूर्ति के आसपास पूजा करते नजर आ रहे है और महिलाए द्वारा धार्मिक गीत गाया जा रहा है.यह देख कर गांव के लोगो उनके नारे लगा रहे थे और उनको भगवान का दर्जा दे रहे थे.इस फोटो के साथ सोनू सूद ने लिखा कि में इस लायक नहीं हूं.फिल्म जगत में नेगेटिव किरदार निभाने ने सोनू सूद लॉकडाउन में गरीबों के हीरो बन गए है.आज हम आपको सुनो सूद की फैमिली के बारे में बात करेगे.सोनू सूद का जन्म 30 जुलाई 1973 को पंजाब के छोटे से गांव में हुआ था.


सोनू सूद अपना जन्म दिन नहीं मानते है. इसके पीछे की वजह है कि 2010 में उनकी माता की मृत्यु हो गई थी जिससे उनको गहरा सदमा लगा और उन्होंने जन्मदिन मनाना छोड़ दिया.सोनू सूद के पिता का नाम शक्ति सूद है उनका निधन भी 2018 में हो गया था.सोनू सूद के 2 बेटे भी है.सोनू सूद बॉलीवुड में शुरुआत करने से पहले वे साउथ इंडियन फिल्म के स्टार थे.बॉलीवुड में उनका डेब्यू 2002 में फिल्म “शहीद ए आजम से हुआ.सोनू सूद ने कई बेहतरीन फिल्म में अपने अभिनय की छाप छोड़ी है.उनके द्वारा कहा हो तुम,युवा,शीशा, आशिया बनाया अपने,जोधा अकबर,दबंग,बुड्डा होगा तेरा बाप, आर….राजकुमार आदि फिल्म में काम किया है.हाल ही में सोनू सूद को यूएन ने बेस्ट ह्यूमैनिटीज एक्शन अवॉर्ड दिया गया.

About Anant Kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *