Breaking News
Home / खबर / विदेशी लड़की को हुआ भारतीय लड़के से प्यार, शादी के बाद गांव में बिता रही जीवन….

विदेशी लड़की को हुआ भारतीय लड़के से प्यार, शादी के बाद गांव में बिता रही जीवन….

कहते हैं कि जोड़ियां आसमानों पर ही बनती हैं इस धरती पर तो सिर्फ मिलन होना बाकी रहता है.प्यार और एहसास कब किससे हमारा जुड़ जाए यह कुछ नहीं पता जब जो भाग्य में लिखा होता है वह हमें मिलकर ही रहता है. प्यार एक ऐसा एहसास होता है कि जिस से मिलने के बाद सारी दुनिया संसार खूबसूरत लगने लगता है.और यह प्यार का बंधन जब वह शादी के पवित्र बंधन में बदल जाता है तो और भी ज्यादा प्यारा एहसास बन जाता है. आज हम आपसे ऐसे ही एक मनमोहक कहानी के बारे मे बात करने जारहे है तो आये हम आपको बताते है ये प्यार क्र अनोखी कहानी.ये कहानी एक फ़्रांस की महिला की है जो 7 वर्ष पहले भारत आई थी और यहाँ एक भारतीय से प्रेम होने के बाद से ही शादी के बंधन मे बंधकर एक भारतीय महिला की तरह अपना जीवन वयतीत कररही है.

हम बात कर रहे हैं मारी की. मारी का जन्म फ़्रांस के पेरिस में हुआ था. मारी का बचपन पेरिस में ही बीता वह वही पर पली-बढ़ी. लेकिन अब वह शादी कर कर भारत में ही रहने लगी हैं और एक भारतीय स्त्री की तरह अपना जीवन बिता रही हैं.मारी 33 वर्ष की हैं. मारी भारत में मांडू भ्रमण के लिए आई हुई थी.और ऐतिहासिक किले के भृमण के दौरान अपने गाइड से ही प्रेम कर बैठी इस टूर के दौरान मारी को उनके गाइड धीरज से प्रेम हो गया मारी धीरज को  प्रेम करने लगी इसके बाद मारी ने धीरज  के साथ शादी करने का निर्णय ले लिया.वह अब अपने वैवाहिक जीवन में काफी खुश हैं मारी के पिता एक डॉक्टर है और उनकी मां एक टीचर हैं मारी खुद भी एक टीचर हैं. भारत में रहते हुए वह  टूटी-फूटी हिंदी बोलना भी सीख चुकी हैं.

मारी ने बपूरी तरह भारतीय सभ्यता को अपना लिया है.वह साड़ी और सलवार सूट भी पहनने लगी है और खुद को काफी ज्यादा  गौरव  पूर्ण महसूस करती हैं.मारि आज भी टीचिंग से जुड़ी हुई है वह पेरिस के  बच्चों को ऑनलाइन शिक्षा दे रही हैं इसके साथ ही वह खुद भी दो बच्चों की मां है वह अपने दोनों बच्चों को हिंदी और फ्रेंच दोनों भाषाए सिखाराही है.आपको यह जानकर काफी हैरत होगी कि फ्रांस से आई मारी भारत में मांडू में अपना खुद का घर खुद से बना रही हैं और इसके लिए वह मिस्त्री के साथ खुद काम करती हैं मारी अपने घर का भी पूरा काम खुद से ही करती हैं.

मारी एक ऐसी फ्रांस की स्त्री हैं जो कि भारतीय सभ्यता में पूरी तरह से खुद को ढाल चुकी हैं.भारतीय रंग में रंग चुकी हैं मारी अब से तकरीबन 7 वर्ष पहले भारत आई थी. अब वह पूरी तरह से हमारे भारतीय जीवन को ही अपना चुकी हैं वैसे ही उनका रहन-सहन हो चुका है. वह अब बिल्कुल वेस्टर्न कपड़े नहीं पहनती वह साड़ी और सलवार सूट ही पहना करती हैं. मारी को साड़ी पहनना काफी पसंद है और वह त्यौहार के अवसरों पर घर में पूजन के समय साड़ी पहनना काफी पसंद करती हैं.

मारी का कहना है कि हमें भारतीय परंपरा के अनुसार साड़ी पहनकर काफी अच्छा लगता है और वह अपने बच्चों को भी भारतीय पारंपरिक को तथ्यों से अवगत करवा रही हैं खेल खेल मे ही वह अपने बच्चों को भारतीय विरासत और परंपराओं के बारे में बताती रहती हैं.

मारी को अपने परिवार की सेहत का काफी ख्याल रहता है.वह भारतीय व्यंजन भी बनाना काफी पसंद करती हैं. और वह अंकुरित अनाज ही अपने परिवार और अपने बच्चों को खिलाने में काफी सक्षम रहती हैं,उनको हेल्दी भोजन ही कराती हैं.

About Anant Kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *